अटल टनल रोहतांग का दीदार करने वाले टूरिस्ट फैला रहे है गंदगी

कुल्लू : अटल टनल रोहतांग (Atal Tunnel Rohtang) को पीएम मोदी ने देश को समर्पित किया है. टनल के द्वार अब लाहौल की वादियों का दीदार करने वालों के लिए खुल तो गए हैं लेकिन उसने लाहौल (Lahaul) के लोगों की चिंता बढ़ा दी है. दरअसल, जो भी लोग टनल होते हुए लाहौल में घूमने के लिए पहुंच रहे हैं, वो वहां पर गंदगी (Garbage) फैला रहे हैं. इस बात की जानकारी कैबिनेट मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने दी.
रोज तीन हजार तक गाड़ियां टनल से लाहौल घाटी में प्रवेश कर रही
मंत्री ने साथ ही नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि लाहौल में होटल नहीं हैं. ऐसे में जो लोग बाहर से खाना या दूसरी वस्तुएं लेकर आ रहे हैं, वापसी में उसे वहीं पर फेंक रहे हैं. हालात यह है कि लाहौल में अभी से ही कूड़े के ढेर लगने शुरू हो गए हैं.
यात्रियों की खुद सफाई केप्रति बारात रहे है लापरवाही
हर रोज 1 से तीन हजार गाड़ियां टनल से लाहौल घाटी में प्रवेश कर रही हैं. यहां धार्मिक स्थलों में भी लंबी-लंबी भीड़ देखने को मिल रही है, जिसमें प्रमुख जगह त्रिलोकीनाथ मंदिर है. लाहौल-स्पीति के विधायक एवं कैबिनेट मंत्री डा रामलाल मारकंडा के मुताबिक हम चाहते थे कि लोगों को कोआपरेट करें, लेकिन जैसे
हालात बन रहे हैं, उसके चलते वहां पर पुलिस तैनात करनी पड़ी है.