Tokyo Olympics: तीरंदाजी में भारत को झटका, क्वार्टर फाइनल से आगे नहीं बढ़ पाईं दीपिका कुमारी

टोक्यो ओलंपिक में आठवां दिन भी भारत के लिए शानदार रहा। इस दौरान बॉक्सर लवलीना ने देश के नाम एक और पदक पक्का किया। उन्होंने महिलाओं की बॉक्सिंग की 69 किग्रा भार वर्ग स्पर्धा के सेमीफाइनल में जगह बनाई। लवनीना ने क्वार्टर फाइनल में चीनी ताईपे की खिलाड़ी निएन चिन चेन को 4-1 से करारी शिकस्त दी। जबकि महिला हॉकी में भारत ने आयरलैंड को 1-0 से शिकस्त वहीं, जबकि दीपिका कुमारी क्वार्टर फाइनल में महिलाओं की व्यक्तिगत तीरंदाजी स्पर्धा में हार गईं। उन्हें कोरिया की आन सन ने 6-0 से हराया।

धावक अविनाश साबले तीन हजार पुरुषों की स्टीपलचेज स्पर्धा के फाइनल में जगह नहीं बना पाए, जबकि निशानेबाज मनु भाकर महिलाओं की 25 मीटर एयर पिस्टल व्यक्तिगत स्पर्धा के फाइनल में जगह बनाने से चूक गईं। बॉक्सर सिमरनजीत कौर 60 किग्रा महिला भार वर्ग के अंतिम 16 मुकाबले में हार गईं। उन्हें थाईलैंड की सुदापोर्न सीसोंदी 5-0 से हराया।

इसके अलावा बैडमिंटन महिला क्वार्टर फाइनल में पीवी सिंधु अपनी चुनौती पेश करेंगी। जबकि पुरुष हॉकी टीम जापान से भिड़ेगी। टोक्यो ओलंपिक में बीता सातवां दिन भारत के लिए शानदार रहा। अगर मैरी कॉम का मुकाबला छोड़ दिया जाए तो बाकी सभी भारतीय एथलीटों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया।
क्वार्टर फाइनल में हारीं दीपिका कुमारी
विश्व की नंबर एक तीरंदाजी दीपिका कुमारी तीसरा सेट भी हार गईं। उनकी हार के बाद भारत की पदक जीतने की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा। दीपिका अब पदक की रेस से बाहर हो गई हैं।

फाइनल में जगह नहीं बना पाए अविनाश साबले
तीन हजार पुरुषों की स्टीपलचेज स्पर्धा में भारत के अविनाश साबले फाइनल में जगह नहीं बना पाए। उन्होंने इस दौरान बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया। लेकिन फाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर सके। वह सातवें स्थान पर रहे। अविनाश 8:18.12 समय के साथ राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाने में सफल रहे। साबले ने मार्च में फेडरेशन कप में अपने 8: 20. 20 के रिकॉर्ड को तोड़ दिया।
मनु भाकर फाइनल में पहुंचने से चूकीं
निशानेबाज मनु भाकर ने एक बार फिर निराश किया। वह महिलाओं की 25 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में जगह बनाने से चुक गईं। उन्हें फाइनल में जाने के लिए टॉप 8 में रहना था। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मनु भाकर 11वें स्थान पर रहीं। भारत की इस निशानेबाज ने रेपिड राउंड में 290 और प्रिसिजन राउंड में 292 अंक हासिल किए। प्रिसिजन राउंड में मनु पांचवें नंबर पर रहीं। अब उन्हें टोक्यो ओलंपिक से खाली हाथ स्वदेश लौटना पड़ेगा। मनु भाकर ने तीरंदाजी की कई स्पर्धाओं में शिरकत की लेकिन एक भी पदक नहीं जीत पाईं। इसके अलावा एक अन्य निशानेबाज राही सरनोबत ने भी निराश किया।
भारत बनाम आयरलैंड महिला हॉकी मुकाबले में देरी
भारत और आयरलैंड की महिला टीमों के बीच खेला जाने वाला मुकाबला करीब एक घंटे बाद शुरू होगा। बारिश के चलते इस मुकाबले के समय में फेरबदल किया गया है। पहले यह मैच भारतीय समयानुसार सुबह 8.15 बजे होना था। लेकिन अब दोनों टीमों के बीच यह मुकाबला भारतीय समय के मुताबिक सुबह 9.15 बजे शुरू होगा।
5-0 से हारीं सिमरनजीत कौर
बॉक्सिंग में भारत को निराश हाथ लगी है। सिमरनजीत कौर 60 किग्रा महिला भार वर्ग के अंतिम 16 मुकाबले में हार गईं। जिसके चलते वह पहले दौर में बाहर हो गईं। उन्हें थाईलैंड की सुदापोर्न सीसोंदी ने 5-0 से शिकस्त दी। इस हार के बाद सिमरनजीत कौर टोक्यो ओलंपिक में बाहर हो गईं।
सेमीफाइनल में बॉक्सर लवलीना
भारत की बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन ने टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रच दिया। वह सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। उनके सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद भारत का एक और पदक पक्का हो गया है। क्वार्टर फाइनल में लवलीना ने महिलाओं की 69 किग्रा भार वर्ग में चीनी ताईपे की खिलाड़ी निएन चिन चेन को 4-1 से करारी शिकस्त दी।
दुती चंद ने किया निराश
धाविका दुती चंद ने भारत को निराश किया है। उनसे इस बार मेडल की उम्मीद की जा रही थी लेकिन वह उम्मीदों पर खरी नहीं उतरीं। वह महिलाओं की 100 मीटर (हीट 5) में सातवें नंबर पर रहीं।
हॉकी में भारतीय महिला टीम की पहली जीत
टोक्यो ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम ने आज अपनी जीत का खाता खोल लिया। आयरलैंड के खिलाफ खेले गए मैच में रानी रामपाल की अगुवाई वाली टीम ने 1-0 से जीत दर्ज की। इस जीत के साथ भारत की क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की उम्मीद बरकरार है। मैच में भारत की तरफ से 57वें मिनट में नवनीत कौर ने गोला दागा।