महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर किया हमला,कहा इस देश में हिंदुस्तानी कौन है, केवल भाजपा के कार्यकर्ता

जम्मू और कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए रविवार को कहा कि वे मुसलमानों को पाकिस्तानी, सरदारों को खालिस्तानी, सामाजिक कार्यकर्ताओं को अर्बन नक्सल और छात्रों को टुकड़े-टुकड़े गैंग और देशद्रोही कहते हैं। ऐसे में मुझे यह समझ नहीं आता कि अगर हर कोई आतंकवादी और देश विरोधी है, तो इस देश में हिंदुस्तानी कौन है, केवल भाजपा के कार्यकर्ता। पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जब से उन्होंने (भाजपा ने) सरकार संभाली है, तब से मुल्क के टुकड़े करने के सिवा कुछ नहीं कर रहे हैं।
मुझे लगता है कि भाजपा खुद का एक पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करना चाहती है, जहां लोकतंत्र के लिए कोई जगह न हो। मुफ्ती ने कहा कि जब से हमने डीडीसी चुनाव में भाग लेने का फैसला किया, तब से जम्मू-कश्मीर में पिछले एक-डेढ़ साल से जो ज्यादतियां हो रही थीं, उनको और बढ़ाया गया। पूरे मुल्क में इस वक्त अंधा कानून चल रहा है। इनके पास सबसे बड़ा हथियार यूएपीए बन गया है। महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जब तक कश्मीर का मुद्दा सुलझ नहीं जाता, तब तक समस्या बनी रहेगी। जब तक सरकार अनुच्छेद-370 को फिर से लागू नहीं करती, यह समस्या बनी रहेगी। मंत्री आते-जाते रहेंगे। केवल इस तरह से सामान्य चुनाव करवा देना कोई समाधान नहीं है।