चिकित्सा उपकरण पार्क : मेडिकल डिवाइस पार्क को 269 करोड़ मंजूर, अब बल्क ड्रग पार्क भी मिलेगा

प्रदेश सरकार नालागढ़ में मेडिकल डिवाइस पार्क स्थापित करने के 269 करोड़ रुपए के प्रस्ताव को भारत सरकार से स्वीकृत करवाने में सफल रही है। सरकार ने राज्य के लिए एक बल्क ड्रग पार्क स्थापित करने का मामला भी भारत सरकार से उठाया है और उम्मीद है कि यह पार्क भी जल्द स्वीकृत होगा। इसमें 50 हजार करोड़ रुपए से अधिक का निवेश और 15 से 20 हजार व्यक्तियों को रोजग़ार उपलब्ध होगा। यह बात बुधवार को यहां पहुंचे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कही। उन्होंने कहा कि लगभग 150 करोड़ रुपए के निवेश से स्थापित होने वाली इलेक्ट्रॉनिक मैन्यूफेक्चरिंग जोन की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट भी तैयार की गई है तथा शीघ्र ही इसे भारत सरकार को स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा। सीएम ने यह जानकारी बद्दी में एक टैक्सटाइल उद्योग के उद्घाटन समारोह के दौरान जनसमूह को संबोधित करते हुए कहे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार हिमाचल प्रदेश को देश का सर्वश्रेष्ठ निवेश गंतव्य स्थल बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।

प्रदेश सरकार के सतत प्रयासों से आज हिमाचल ई•ा ऑफ डूइंग बिजनेस में देश में 7वें स्थान पर पहुंचा है। उन्होंने कहा कि इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए वर्ष 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में प्रथम सफल ग्लोबल इन्वेस्टर्ज मीट आयोजित की गई, जिसमें लगभग 96 हजार करोड़ रुपए के निवेश समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किए गए। उन्होंने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर्ज मीट के एक माह के भीतर ही देश के गृह मंत्री अमित शाह की उपस्थिति में प्रथम ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी आयोजित की गई, जिसमें लगभग 13,500 करोड़ रुपए के निवेश को धरातल पर उतारा गया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में अधिक से अधिक निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए शीघ्र ही दूसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी आयोजित की जाएगी, जिसमें लगभग 15 से 20 हजार करोड़ रुपए तक के निवेश को धरातल पर उतारा जाएगा।

ये भी रहे मौजूद

इस अवसर पर उद्योग मंत्री विक्रम सिंह ने कहा कि हिमाचल प्रदेश का स्वच्छ पर्यावरण एवं भयमुक्त वातावरण निवेश के लिए उपयुक्त है। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डा. राजीव सैजल, पूर्व विधायक केएल ठाकुर, विनोद चंदेल, रमेश ठाकुर, प्रदेश जल प्रबंधन बोर्ड के उपाध्यक्ष दर्शन सिंह सैणी, गोसेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा, नगर परिषद बद्दी की अध्यक्ष उर्मिल चौधरी, मेलाराम चंदेल, बलबीर ठाकुर, उपायुक्त कृतिका कुलहरी, एसपी मोहित चावला, बीबीएनडीए की सीईओ रिचा वर्मा, एसडीएम महेंद्र पाल गुर्जर आदि उपस्थित थे।