हिमाचल : कई शिक्षकों का मन अभी भी स्कूल आने का नहीं, निरीक्षण विंग की टीम का औचक निरीक्षण

कोरोना महामारी के बाद सरकारी स्कूल खुल गए हैं। लेकिन, कई शिक्षकों का मन अभी भी स्कूल आने का नहीं है। ऐसा खुलासा चंबा में स्कूलों के औचक निरीक्षण के दौरान निरीक्षण विंग की टीम ने किया। जानकारी के मुताबिक सबसे पहले निरीक्षण विंग की टीम शुक्रवार सुबह वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल बतोट पहुंची। यहां प्रधानाचार्य समेत टीजीटी मेडिकल, ड्राइंग मास्टर, प्रवक्ता, क्लर्क और एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए। प्रधानाचार्य 17 फरवरी के बाद स्कूल नहीं आए थे और छुट्टी भी मंजूर नहीं करवाई थी। जबकि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी भी 15 फरवरी दोपहर बाद से स्कूल नहीं आया। इसके बाद टीम प्राइमरी स्कूल बतोट पहुंची, जहां दोनों जेबीटी शिक्षक नदारद पाए गए। एक जेबीटी अध्यापक 15 फरवरी और दूसरा 16 फरवरी दोपहर बाद से स्कूल नहीं पहुंचा।

इसके अलावा मल्ला स्कूल में 15 फरवरी से गैरहाजिर चल रहे दो जेबीटी अध्यापकों में से एक अध्यापक पहुंचा। निरीक्षण के दौरान सीनियर सेकेंडरी स्कूल बतोट के रिकॉर्ड में खामियां पाई गईं। साथ ही रिकॉर्ड आधा-अधूरा पाया गया। इसके अलावा दोनों प्राइमरी स्कूलों में भी रिकॉर्ड दुरुस्त नहीं था। इसके अलावा शैक्षणिक स्तर भी तीनों स्कूल में निम्न स्तर का पाया गया। उधर, इंस्पेक्शन विंग चंबा के उपनिदेशक राजेश कौशल ने बताया कि तीन स्कूलों में दबिश दी गई। प्रधानाचार्य समेत अध्यापक, क्लर्क व प्रवक्ता अनुपस्थित पाए गए। इस बारे में कारण बताओ नोटिस जारी कर दिए हैं।