हिमाचल : HRTC मास्टर प्लान के साथ तैयार, निजी ऑपरेटर नहीं माने तो परिवहन निगम चलाएगा अतिरिक्त बसें

एक जून से शुरू होने वाली परिवहन सेवाओं को लेकर एचआरटीसी मंगलवार को मास्टर प्लान तैयार करने जा रहा है। सूत्रों के अनुसार अगर निजी बस ऑपरेटर बसें चलाने के लिए नहीं माने तो एचआरटीसी की अतिरिक्त बसें चलाई जा सकती हैं। निगम के पास सामाजिक दूरी का पालन करते हुए अतिरिक्त बसें चलाने का विकल्प है। कोरोना संकट के बीच कई नए नियमों के साथ बसें चलाई जानी हैं।

ऐसे ममंगलवार दोपहर को परिवहन विभाग और निगम के अधिकारियों के बीच होने वाली यह बैठक अहम मानी जा रही है। हिमाचल के भीतर ही परिवहन सेवाएं शुरू होनी हैं, इसके चलते प्रदेश से बाहरी राज्यों के लिए चलने वाले चालकों और परिचालकों की ड्यूटी भी निगम प्रबंधन हिमाचल में ही लगाएगा। इसके अतिरिक्त विभिन्न जिलों से चालकों-परिचालकों को लाने के लिए प्रबंध करने का निर्णय भी बैठक में लिया जाएगा।
यात्रियों को कंडक्टर के पास जाकर लेना होगा टिकट

बसों में 60 प्रतिशत सवारियां ही बैठेंगी
बसों में 60 प्रतिशत सवारियां बैठाई जाएंगी। दो यात्रियों के बैठने वाली सीट पर एक और तीन लोगों के बैठने वाली सीट पर दो लोगों को बैठाया जाएगा। बैठक में यह भी फैसला होगा कि कंडक्टर सवारियों को कैसे टिकट देंगे। यह भी बताया जा रहा है कि ऐसा भी प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है कि यात्रियों को खुद ही परिचालक के पास जाकर टिकट लेना होगा। बसों को सैनिटाइज किया जाएगा। जिन यात्रियों ने मास्क नहीं पहने होंगे, उन्हें बस में चढ़ने नहीं दिया जाएगा। चालकों-परिचालकों को पीपीई किट देने पर भी निर्णय लिया जाना है।