सरकारी अधिकारी त्वरित तरीके से योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचाएं: मेलाराम शर्मा

पंचायत समिति सगड़ाह के अध्यक्ष मेलाराम शर्मा ने विकासखंड सगड़ाह के विभिन्न अधिकारियों से आग्रह किया है कि आम लोगों की समस्याओं का निवारण शीघ्रता से किया जाए और विशेषकर गरीब लोगों को कार्यालयों के चक्कर काटने से बचाया जाए।

शर्मा आज सगड़ाह में पंचायत समिति की पहली बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की जनकल्याण नीतियों और विकास कार्यों का लाभ तभी आम लोगों तक पहुंच सकता है जब सरकारी अधिकारी त्वरित तरीके से योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचाएंगे । मेलाराम शर्मा ने कहा कि विकासखंड संगडा़ह में सड़कों की दशा सुधारने की नितांत आवश्यकता है। उन्होंने लोक निर्माण विभाग से आग्रह किया कि सड़कों के रखरखाव पर विशेष ध्यान दिया जाए ताकि इस क्षेत्र को पर्यटन, कृषि और बागवानी की दृष्टि से विकसित किया जा सके।

उन्होंने ग्राम पंचायत प्रधानों से आग्रह किया कि अपनी-अपनी पंचायतों में लोक निर्माण विभाग को सड़क निर्माण के उपयोग में लाई गई जमीन की गिफ्ट डीड उपलब्ध कराने का कार्य प्राथमिक का प्राथमिकता के आधार पर करें ताकि सड़कों को पक्का करने की डीपीआर तैयार की जा सके।बीडीसी अध्यक्ष ने पंचायत प्रधानों से कहा कि गांव-गांव में पड़े लंबित कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाया जाए। उन्होंने विकास खंड अधिकारी से कहा कि जिन पंचायतों में अधिक मामले लंबित पड़े हैं वहां फिलहाल नए कार्य शुरू न किए जाएं और पहले लंबित मामलों को पूरा किया जाए। मेलाराम शर्मा ने बताया कि पहली बैठक के दौरान पंचायत समिति मद में अगले वित्त वर्ष का बजट भी अनुमोदित किया गया और विकासखंड संगड़ाह की 44 पंचायतों में मनरेगा के अंतर्गत 5964 कार्यों के लिए 27 .25 करोड रुपए के बजट को स्वीकृति दी गई।

इन कार्यों के अधीन 8,33,253 कार्य दिवस सृजित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
बैठक में खंड विकास अधिकारी श्री सुभाष अत्री ने बताया कि बीडीसी की इस पहली बैठक में साधारण स्थाई समिति, वित समपरीक्षा समिति और सामाजिक न्याय समिति का गठन भी किया गया। इस बैठक में पंचायत समिति सगड़ाह के सभी 17 बीडीसी सदस्यों, 10 पंचायत प्रधानों, संगड़ाह के तहसीलदार श्री आत्माराम नेगी सहित विभिन्न विभागों के एक दर्जन से अधिक अधिकारियों ने भाग लिया।