सरकार के पास है अक्तूबर तक का वक्त, नहीं मानी तो हम 44 लाख टैक्टर के साथ मार्च करेंगे: राकेश टिकैट

कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों के आंदोलन के 70वें दिन हरियाणा के जींद जिला में महापंचायत हो रही है। यह महापंचायत कंडेला में हो रही है, जिसमें सैकड़ों गांवों के किसान एकत्रित हुए हैं। हरियाण के जींद में किसानों की महापंचायत में किसान नेता राकेश टिकैट पहुंच चुके हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के पास अक्तूबर तक का वक्त है। अगर सरकार नहीं मानी तो हम 44 लाख टैक्टर के साथ मार्च करेंगे। इस महापंचायत में हरियाणा के करीब 50 खापों के प्रतिनिधि भी महापंचायत शामिल हैं।

इस महापंचायत में किसान आंदोलन की आगामी रणनीति बनाई जाएगी। इसके बाद जींद के गांव कंडेला में चल रही महापंचायत में हादसा हो गया। जिस मंच से राकेश टिकैत किसानों को संबोधित कर रहे थे, वह गिर गया। मंच पर कई अन्य किसान नेता भी मौजूद थे। हादसे में टिकैत समेत कुछ नेताओं को मामूली चोट आई है।

हादसे से पहले महापंचायत को संबोधित करते हुए टिकैत ने कहा कि सरकार की किलेबंदी अभी तो एक नमूना है। आने वाले दिनों में इसी तरह से गरीब की रोटी पर किलेबंदी होगी। रोटी तिजोरी में बंद न हो, इसके लिए ही यह आंदोलन शुरू किया गया है। अभी सरकार को अक्टूबर तक का वक्त दिया गया है। आगे जैसे भी हालात रहेंगे, उसी हिसाब से अगली रणनीति पर किसान चर्चा करेंगे।