कोरोना का पीक आना अभी बाकी: डॉ.जनकराज

शिमला. हिमाचल (Himachal Pradesh) में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच गुरूवार को हाई कोर्ट ने राज्य सरकार को सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. वहीं डॉक्टरों ने भी अब साफ कह दिया है कोरोना का पीक आना अभी बाकी है. मतलब साफ है कि अभी ये वायरस अपना विराट रूप दिखाएगा. शुक्रवार को राजधानी शिमला में प्रेस क्लब में कोविड (COVID-19) को लेकर आयोजित एक कार्यशाला में प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल,आईजीएमसी (IGMC) के एमएस डॉ.जनकराज ने दावा किया कि कोरोना का पीक आना अभी बाकी है. ग्रामीण इलाकों में भी ये वारयस काफी फैल चुका है. ऐसे में राज्य सरकार अगर और पाबंदियां लगाएगी,उससे ज्यादा असर नहीं पड़ेगा बल्कि एहतियात ही एकमात्र उपाय है. बार-बार हाथ धोना,मास्क पहनना,सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना, परस्पर दूरी और सामाजिक दूरी बनाए रखाना जैसे सभी एतियाती कदमों के साथ साथ कोविड के नियमों की पालना से ही इस संक्रमण से बचा जा सकता है.
आईजीएमसी में डॉक्टर्स समेत 256 लोग पॉजिटिव
डॉ. जनक ने कहा कि जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक इस महामारी से बचने का एकमात्र रास्ता एतियात ही है. उन्होंने साफ किया कि लोग इस बात को ध्यान में रखें कि अभी ये वायरस जाएगा नहीं, संक्रमण का ये दौर काफी लंबा चलेगा. संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए नियमों की पालना जरूरी है. घबराने की जरूरत नहीं है. उन्होंने बताया कि आईजीएमसी में ही डॉक्टर्स,पैरामेडिकल स्टाफ और अन्य कर्मचारियों को मिलाकर अब तक 256 लोग पॉजिटिव आए हैं. ये संख्या अभी और भी बढ़ सकती है.