चुनाव, सरकार और नेताओं की वजह से बढ़ा कोरोना: शांता कुमार

शिमला: हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कोरोना के बढ़ते मामलों के लिए सरकार और सियासी कार्यक्रमों पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि चुनाव की वजह से कोरोना बढ़ रहा है. भाजपा नेता शांता कुमार ने कहा है कि कोरोना के कहर से पूरा देश दहल रहा है. सबसे अधिक दुर्भाग्य की बात यह है कि इस बार कोरोना बढ़ने की सबसे अधिक जिम्मेदारी सरकार और नेताओं की है. जनता भी लापरवाही के लिए एक सीमा तक जिम्मेदार है. पिछले 15 दिनों में बंगाल में कोरोना के रोगी पांच गुणा बढ़ थे. चुनाव के सभी प्रदेशों में यह कहर बढ़ रहा है.

शास्त्र का किया जिक्र
उन्होंने कहा कि हमारे शास्त्रों में कहा है ”आपातकाले मर्यादा नासति.“ इसका सीधा सा अर्थ है कि जब जिन्दगी ही दांव पर लगी हो तो सभी नियम मर्यादायें तोड़ी जा सकती हैं. आज हालात में कुम्भ करने की बिलकुल जरूरत नहीं थी. हजारों लोग इकटठे नहा रहे हैं. बीमारी बढ़ेगी. मन्दिरों में भीड़ इकटठी होती रही-बीमारी बढ़ती रही. भगवान तो हर जगह हैं, हमारे घर में भी है. यदि सब प्रकार के धार्मिक और राजनैतिक कार्यक्रम बन्द कर दिये गये होते तो इस बीमारी से बहुत राहत मिलती.

एक सीमा तक हो आयोजन
शांता कुमार ने कहा एक सीमा तक आर्थिक गतिविधियां जारी रहनी चाहिए. इसके अतिरिक्त आज की परिस्थिति में सब प्रकार के धार्मिक सामाजिक और राजनैतिक कार्यक्रम नहीं होने चाहिए.उन्होंने हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से विशेष आग्रह किया कि सभी नेताओं के दौरे बन्द किये जाएं. मंत्री और नेता कार्यालय में बैठकर शायद अधिक काम कर सकते है. सरकार को सख्ती शुरू करनी चाहिए और जुर्माना की राशि बढ़नी चाहिए.