साफ-सुथरी छवि के लोगों को चुनने से होगा चहुंमुखी विकास: वीरभद्र सिंह

पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने प्रदेश की जनता से पंचायतीराज संस्थाओं, जिला परिषद, बीडीसी, नगर पंचायत और नगर परिषद के चुनावों में साफ-सुथरी छवि के लोगों को चुनने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को चुना जाना चाहिए, जो जन समस्याएं दूर करने के साथ क्षेत्र के विकास की सही सोच रखता हो। लोकतंत्र के इस पर्व में सभी को अपनी सहभागिता सुनिश्चित करते हुए स्वच्छ, ईमानदार लोगों को चुनकर आगे लाना चाहिए। वीरभद्र सिंह ने वीरवार को जारी बयान में कहा कि मतदाता ऐसे जुमलेबाजों से बचें, जो आपसी सौहार्द को तोड़ने या निजी स्वार्थ के लिए भाईचारे को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करते हों।

पंचायतीराज संस्थाओं और शहरी निकाय के चुनाव ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याएं दूर करने के साथ ग्रामीण विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने प्रदेश का चहुंमुखी विकास किया है। यही कारण है कि आज प्रदेश पहाड़ी राज्यों में विकास का अग्रणी मॉडल के तौर पर जाना जाता है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि जनता अपने क्षेत्रों में ऐसे प्रतिनिधियों को चुनेगी, जो सुख-दुख में साथ खड़े रहें। कहा कि हालांकि ये चुनाव किसी राजनीतिक दल के बैनर तले नहीं होते, पर चुनाव लड़ने वाले लोगों की विचारधारा, आस्था किसी न किसी राजनीतिक दल से जुड़ी होती है।