Aryan Khan Drug Case: शाहरुख खान को झटका, Byju’s ने लगाई विज्ञापनों पर रोक, इतना होगा नुकसान

क्रूज शिप पर ड्रग्स पार्टी करने के आरोप में फंसे आर्यन खान के पिता शाहरुख खान को बड़ा झटका लगा है। बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान देश की सबसे मूल्यवान शिक्षा-प्रौद्योगिकी कंपनी बायजूस (Byju’s) के ब्रांड एंबेसडर हैं। अब उनके बेटे आर्यन खान के न्यायिक हिरासत में जाने के बाद बायजूस ने शाहरुख खान के सभी विज्ञापनों को रोक दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अग्रिम बुकिंग के बावजूद बायजूस ने उनके सभी विज्ञापनों को बंद कर दिया है।

और किन कंपनियों के साथ है किंग खान की डील?
बायजूस किंग खान की सबसे बड़े स्पॉन्सरशिप डील्स में से एक था। इसके अवाला वे हुंडई, एलजी, दुबई टूरिज्म और रिलायंस जियो जैसी कई कंपनियों के लिए भी चेहरा हैं।

शाहरुख खान को कितने पैसे देती है बायजूस?
रिपोर्ट्स के अनुसार, बायजू ब्रांड को एंडोर्स करने के लिए शाहरुख खान को सालाना तीन से चार करोड़ रुपये का भुगतान करती है। अभिनेता 2017 से इस कंपनी के ब्रांड एंबेसडर हैं।

सोशल मीडिया पर हो रही थी चर्चा
लोग बायजूस पर सवाल उठाने लगे थे। वे पूछने लगे कि शाहरुख को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाकर कंपनी क्या संदेश देना चाहती है। लोगों ने पूछा कि क्या शाहरुख अपने बेटे को यही सिखा रहे हैं? एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि, ‘रेव पार्टी कैसे करें? बायजूस की ऑनलाइन क्लास में जुड़ा नया सिलेबस।’

कितनी है बायजूस की वैल्युएशन?
इसी सप्ताह बायजूस ने 30 करोड़ डॉलर की बड़ी फंडिंग जुटाई थी। इसके बाद कंपनी की वैल्युएशन 18 अरब डॉलर यानी करीब 1,342.10 अरब रुपये हो गई है। जबकि साल की शुरुआत में पिछले फंडिंग राउंड के बाद बायजूस की वैल्यू 16.5 अरब डॉलर थी।

काफी परेशान हैं शाहरुख खान और गौरी खान
अपने बेटे को इस हालत में देख बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान और पत्नी गौरी खान काफी परेशान हैं। दोनों अपने बेटे को जमानत दिलाने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं। लेकिन, लाख कोशिश के बाद भी आर्यन को बेल नहीं मिल सकी।

3-5 दिनों के लिए क्वारंटाइन सेल में रहेगा आर्यन खान
आर्यन खान और अन्य आरोपियों को आर्थर जेल में 3-5 दिनों के लिए क्वारंटाइन सेल में रखा जाएगा। हालांकि, इनकी कोरोना जांच में रिपोर्ट निगेटिव आई है। लेकिन जब भी कोई नया आरोपी इस जेल में आता है तो उसे कुछ दिनों तक इस क्वारंटीन सेल में रखा जाता है। कोर्ट में सुनवाई के दौरान ही मेडिकल जांच के बाद आरोपियों को आर्थर जेल लाया गया।