प्रशासन ने नो मास्क, नो एंट्री-नो सर्विस का अभियान किया शुरू, व्यापार मंडल भी कोरोना वायरस के प्रति लोगों को कर रहे जागरुक

File Photo
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) में कोरोना वायरस (Corona Virus) का प्रकोप तेजी से फैल रहा है. तेजी से बढ़ रहे संक्रमण को रोकने के लिए जहां प्रशासन ने रैंडम जांच प्रक्रिया बढ़ाई है. वहीं व्यापार मंडल शिमला (Shimla Trade Union) भी कोरोना वायरस के प्रति लोगों को जागरुक कर रहा है. प्रशासन ने जहां नो मास्क, नो एंट्री-नो सर्विस (No Mask No entry and No Service) का अभियान चलाया है. व्यापार मंडल शिमला भी दुकानों के बाहर इसी तरह के पोस्टर लगाकर ग्राहकों को कोरोना वायरस के प्रति जागरुक कर रहे हैं. अभियान के तहत कारोबारी बिना मास्क लोगों को सामान नहीं देंगे और उन्हें मास्क पहनने के प्रति जागरूक करेंगे.व्यापार मंडल ने मॉल रोड़, लोअर बाजार के दुकानदारों से लेकर मेडिकल स्टोर व साइबर कैफे के दुकानदारों से पोस्टर लगाकर लोगों को जागरूक करने का निर्णय लिया है.
कोरोना की लड़ाई में प्रशासन के साथ व्यापार मंडल
रोजाना सैकड़ों मामले सामने आ रहे हैं.हालांकि बाजार में इन दिनों त्योहारी सीजन की अपेक्षा कम भीड़ दिख रही है लेकिन कई बार लोग बिना मास्क के आवाजाही करते नजर आते हैं.इससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ रहा है.व्यापार मंडल अध्यक्ष इंद्रजीत सिंह ने कहा कि कोरोना से जंग जीतने के लिए व्यापारी वर्ग ने प्रशासन का साथ दिया है, ताकि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोका जा सके.