कोरोना महामारी डराने लगी, तीन लोगों की मौत

हिमाचल प्रदेश में एक बार फिर कोरोना महामारी डराने लगी है। शनिवार को प्रदेश में कोरोना से तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 670 नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। तीनों मौतें मंडी जिले में हुई हैं। बल्ह में 55 वर्षीय अधेड़, सुंदरनगर में 61 वर्षीय बुजुर्ग और जोगिंद्रनगर में 60 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हुई है। बताया जा रहा है कि तीनों ने दो एहतियाती डोज तो लगवाई थीं, लेकिन बूस्टर नहीं लगवाई थी।

अगर बूस्टर डोज लगवाई होती, तो उनकी जान बच सकती थी। शनिवार को राज्य में कुल 4,478 लोगों के कोरोना टेस्ट किए गए हैं। प्रदेश में अब कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 3,885 पहुंच गई है, जिनमें 60 मरीज अस्पतालों में दाखिल हैं। शनिवार को कोरोना पॉजिटिव 441 मरीजों के स्वास्थ्य में सुधार हुआ है। इनमें से 24 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई। प्रदेश भर में अब तक कोरोना से 4,136 लोगों की जान जा चुकी है।

अस्पतालों में मरीजों के लिए बिस्तर बढ़ाने की तैयारी
प्रदेश में कोरोना की स्थिति को देखते हुए इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज अस्पताल शिमला और टांडा मेडिकल कॉलेज अस्पताल कांगड़ा सहित अन्य बड़े अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए बिस्तर संख्या बढ़ाने की तैयारी की जा रही है।

राष्ट्रीय हेल्थ मिशन (एनएचएम) के प्रबंध निदेशक (एमडी) डॉ. हेमराज बैरवा ने बताया कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों को एहतियात बरतने के लिए कहा गया है। सार्वजनिक और भीड़भाड़ वाले स्थानों में जाने से पहले मास्क पहनकर जाएं। स्वच्छता का भी ध्यान रखें। हाथों को साफ करते रहें। जिन लोगों ने कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन नहीं लगवाई है, वे वैक्सीन लगवा लें। वैक्सीन की बूस्टर डोज भी समय रहते लगवाएं।

146 केंद्रों पर लगाई जाएगी बूस्टर डोज
जिला प्रशासन ने बूस्टर डोज के लिए केंद्र बढ़ाने आरंभ कर दिए हैं। सोमवार को 146 केंद्रों में बूस्टर डोज लगाई जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने 30 सितंबर तक सभी को बूस्टर डोज लगाने का लक्ष्य रखा है।