हम रहें या न रहें, लेकिन यह एयरपोर्ट बनकर रहेगा: जयराम ठाकुर

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का कहना है कि मंडी के बल्ह में प्रस्तावित एयरपोर्ट मेरी जिद है और हम रहें या न रहें, लेकिन यह एयरपोर्ट बनकर रहेगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का कहना है कि अगर यह काम पहले किए होते या प्रयास भी किया होता तो आज शायद एयरपोर्ट बन कर भी तैयार हो गया होता, लेकिन ऐसे प्रयास नहीं किए गए और इसलिए नहीं किए गए क्योंकि ये कठिन काम था। उन्होंने ऐसे बड़े काम करने के लिए जिद और हौंसला चाहिए होता है, लेकिन कांग्रेस नेताओं के पास न तो कोई विजन है और न ही ऐसे काम करने के लिए हिम्मत है। सोमवार को मंडी शहर के साथ लगते कांगणी स्थित सब्जी मंडी में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि विकास को लेकर अगर जिद्दी होना है तो उसमें कोई परहेज नहीं। उन्होंने कहा कि मैंने शिवधाम की जिद की और आज शिवधाम बनकर तैयार हो रहा है। मंडी में यूनिवर्सिटी की जिद की तो उसे भी शुरू कर दिया है, लेकिन इसके विपरित कांग्रेस के नेताओं में कोई विजन नहीं है।

अगर होता तो ये विकास के काम पहले भी हो सकते थे। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट के सभी सर्वे हो चुके हैं और बहुत जल्द इसके लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया को शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं दावे से कह सकता हूं कि मंडी एयरपोर्ट बनकर तैयार होगा। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर मातृ शिशु अस्पताल के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का भी आभार प्रकट किया। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने सोमवार को मंडी में 62.16 करोड़ रुपये लागत की चार विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए। इस अवसर पर विधायक अनिल शर्मा, राकेश जम्वाल, विनोद कुमार, जवाहर ठाकुर, इंद्र सिंह गांधी, बलदेव भंडारी, दलीप ठाकुर, रणवीर सेन, डीडी ठाकुर, कन्हैया लाल, पाल वर्मा, राजबली, सुमन ठाकुर, उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी भी उपस्थित थे। (एचडीएम)

मंत्रियों के टिकट कटें, तो बताएं

एक सवाल के जबाव में सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि चुनावों के दौरान ही टिकट मिलते और कटते हैं। इस दौरान मंत्रियों के टिकट कटने पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि ऐसा कुछ नहीं है और पत्रकारों के पास कोई जानकारी है, तो वह सरकार को भी बताएं।

बैठ गया कौल सिंह का इंजन

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अपने संबोधन में पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर भी जमकर हमला बोलते हुए कहा कि पूर्व में स्वास्थ्य मंत्री रहते हुए भी कौल सिंह ठाकुर मातृ एवं शिशु अस्पताल का भवन नहीं बना सके, जबकि इसे उनकी सरकार ने पूरा किया है। कौल सिंह ठाकुर आए दिन कहते हैं कि सरकार का डबल इंजन हांफ गया है, जबकि असल में उनका खुद का ही इंजन बैठ गया है।

नगर निगम से बाहर होंगे गांव

सीएम ने नई जनगणना के अधिकारिक आंकड़े आने पर नगर निगम मंडी में शामिल ग्रामीण इलाकों को तुरंत बाहर करने का ऐलान भी किया। अभी 2011 की जनगणना के आधार पर नगर निगम का गठन हुआ है और नए आंकड़े आते ही ग्रामीण इलाकों को बाहर कर दिया जाएगा। जीएसटी को लेकर बागबानों के प्रदर्शन को लेकर सीएम ने कहा कि सरकार बागबानों की समस्या को लेकर गंभीर है।