मुख्यमंत्री ने कुल्लू विधानसभा क्षेत्र में 14.38 करोड़ रुपये लागत की परियोजनाओं के किए लोकार्पण

0
2

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आज कुल्लू जिला के कुल्लू विधानसभा क्षेत्र में 14.38 करोड़ रुपए लागत की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण किए। उन्होंने 12.95 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू के 100 बिस्तर क्षमता के मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य खंड, 46 लाख रुपये की लागत से निर्मित स्वास्थ्य उपकेंद्र मोहल, 16 लाख की राशि से निर्मित स्वास्थ्य उप केंद्र बागन का लोकार्पण तथा नगर पंचायत कार्यालय भुन्तर और विकास खंड कार्यालय भुन्तर का शुभारंभ किया। इस अवसर पर भुंतर सब्जी मंडी परिसर में आयोजित चार दिवसीय भुंतर मेले (शाढ़ी जाच) के समापन समारोह की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय ढालपुर कुल्लू का नाम शहीद बालकृष्ण वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय करने की घोषणा की। उन्होंने भुंतर में लघु सचिवालय खोलने, प्राथमिक पाठशाला रसकट को माध्यमिक विद्यालय, प्राथमिक पाठशाला डोभी खराल को माध्यमिक विद्यालय, माध्यमिक विद्यालय नरोगी को उच्च विद्यालय, उच्च विद्यालय खोखन को वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, प्राथमिक पाठशाला घाट ग्राम पंचायत भलान को माध्यमिक विद्यालय, प्राथमिक पाठशाला रामनगर ग्राम पंचायत जेष्ठा को माध्यमिक विद्यालय, वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय पीज में वाणिज्य की कक्षाएं आरंभ करने और वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मणिकर्ण में विज्ञान की कक्षाएं आरंभ करने की घोषणा की।  उन्होंने मेला आयोजन स्थल  पर छत निर्माण के लिए 10 लाख रुपए देने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि भारत की समृद्ध संस्कृति को सहेजने में यहां आयोजित होने वाले मेलों, त्यौहारों और उत्सवों का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा अंतरराष्ट्रीय स्तर के मेलों की अनुदान राशि में 3 लाख रुपये से 5 लाख रुपये की बढ़ोतरी की गई है, राष्ट्रीय स्तर के मेलों की अनुदान राशि 2 लाख रुपये से 3 लाख रुपये, राज्य स्तर के मेलों की राशि एक लाख रुपये से बढ़ा कर डेढ़ लाख रुपये जबकि जिला स्तर पर आयोजित होने वाले मेलों की अनुदान राशि को भी बढ़ाकर 50 हजार रुपये कर दिया गया है। मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने कहा किसी भी राष्ट्र की सुरक्षा और प्रगति के लिए उसकी संस्कृति का संरक्षण और प्रसार अनिवार्य है। सांस्कृति धरोहर से संपन्न राष्ट्र ही विश्व में अपनी पहचान और वर्चस्व रखते हैं। उन्होंने युवाओं से अपनी संस्कृति से जुड़े रहने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के गत साढ़े चार वर्षों के कार्यकाल के दौरान जिला कुल्लू में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार करने के लिए विभिन्न भवन निर्माण कार्यों के लिए 113.63 करोड़ रुपए की धनराशि स्वीकृत की गई जिसमें से 42 लाख रुपये के व्यय से तेगुबेहड़ में ट्रांजिट आवास, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खनाग, स्वास्थ्य उप केंद्र पिन्नी, स्वास्थ्य उप केंद्र रतोचा, सिविल अस्पताल मनाली, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पतलीकुहल, आदि भवनों का निर्माण कार्य पूरा होने वाला है। उन्होंने कहा कि 66 करोड़ 62 लाख रुपये के व्यय से आनी में निर्मित होने वाले 100 बिस्तर क्षमता के भवन, 13 करोड़ रुपये से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भवन दलाश, 2 करोड़ 53 लाख रुपये की लागत से बनने वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र थाटीबीड़ के भवन निर्माण के लिए निविदा प्रक्रिया जारी है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए नए स्वास्थ्य केंद्र खोलने के अतिरिक्त जिला के अनेक अस्पतालों को स्तरोन्नत किया गया है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि कुल्लू विकास खंड हिमाचल प्रदेश का 76 ग्राम पंचायतों वाला सबसे बड़ा विकास खंड है। लोगों की सुविधा के लिए 76 में से 49 ग्राम पंचायतों के लिए भुन्तर में खंड विकास कार्यालय बनाया गया है। भुन्तर में इस कार्यलय के आरम्भ होने से दूर-दराज की ग्राम पंचायत मलाणा सहित आस-पास की पंचायतों के लोगों को लाभ प्राप्त हुआ है तथा बुजुर्गों और दिव्यांगजनों की पहुंच के लिए भी यह कार्यालय सुविधाजनक है। उन्होंने कहा कि कुल्लू जिला में पर्यटन की संभावनाओं का दोहन करने के लिए लग घाटी को नई राहें-नई मंजिलें योजना के तहत शामिल किया गया है। बिजली महादेव के लिए रोपवे का कार्य आरम्भ हो गया है।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि पर्यटकों तथा जिलावासियों की सुविधा के लिए कुल्लू में बीओटी के आधार पर अत्याधुनिक बस अड्डे का निर्माण किया गया। कुल्लू-करौन सड़क पर भराई खडड पर 2 करोड़ रुपये की लागत से पुल का निर्माण कार्य पूरा हो गया है जबकि 3 करोड़ रुपये की लागत से इसी सड़क पर एक अन्य पुल का निर्माण कार्य भी किया गया। 6 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली पीज से बुआई सड़क का निर्माण कार्य प्रगति पर है। लोरन सरली वाया खलाड़ा सड़क निर्माण के लिए 5 करोड़ रुपये तथा भटगरां मोड़ से खड़ीहार के लिए 3 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं तथा 11 करोड़ रुपये से बदाह-पाहनाला, शिलीहार सड़क तथा 8 करोड़ रुपये व्यय कर खड़ीहार से लिंगर बांछू सड़क का निर्माण कार्य पूरा किया गया है। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राज्य के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में गत साढ़े चार वर्षों में अभूतपूर्व विकास हुआ है। कोरोना महामारी के दौरान भी राज्य में विकास की गति अवरूद्ध नहीं हुई है। केंद्र सरकार से राज्य को हजारों करोड़ रुपये की सहायता मिली है। केन्द्र तथा राज्य सरकार की योजनाओं के चलते राज्य में चहुंमुखी विकास हुआ है। मुख्यमंत्री जी को कुल्लू-भुन्तर प्रधान संघ और नगर पंचायत भुन्तर के पदाधिकारियों ने सम्मानित किया।