Petro Price: कच्चे तेल में नरमी बरकरार, पर कंपनियां नहीं घटा रहीं पेट्रोल-डीजल के दाम

कच्चे तेल में नरमी बरकार है, बावजूद इसके कंपनियां पेट्रोल-डीजल के दामों को नहीं घटा रही हैं। चूंकि केंद्र और राज्य सरकारों ने अपनी ओर से जनता को राहत दे दी है। ऐसे में अब बारी कंपनियों की है। कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का दौर जारी, मगर कंपनियां पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम करने में दिलचस्पी नहीं ले रही हैं।

जानकारी के अनुसार अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में नरमी रहने के बावजूद घरेलू स्तर पर सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने आज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया, जिससे राजधानी दिल्ली में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार आठवें दिन भी टिकाव पर रहे। केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमश: पांच तथा 10 रुपए प्रति लीटर की कमी करने से देश में इसकी कीमतों में कमी आई थी। इसके बाद उत्तर प्रदेश, कर्नाटक सहित देश के 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने इन दोनों उत्पादों पर मूल्य वर्धित कर (वैट) में कमी की है। इससे संबंधित राज्यों में इन दोनों

पेट्रोलियम उत्पाद की कीमतों में और कमी आयी है। इसका असर आज भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर बरकरार है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में मंगलवार को ब्रेंट क्रूड की कीमत 85 डॉलर प्रति बैरल पर पर पहुंच गई थी, लेकिन शुक्रवार को इसके दाम में भारी गिरावट देखने को मिली। अभी भी कच्चे तेल की कीमत में नरमी बरकरार है।