महाविध्यलय संगड़ाह में नशा निवारण के संदर्भ में पुलिस ने छात्रों को किया जागरूक

उप-मण्डल पुलिस अधिकारी संगड़ाह द्वारा सन्नातक महाविध्यलय संगड़ाह मे नशा निवारण के सन्दर्भ मे एक सभा का आयोजन किया गया जिसमे पुलिस ने मौजूद प्राध्यापकों तथा धात्र- छात्राओं को  जानकारी दी।

महाविद्यालय के सभी छात्र-छात्राओं को नशा मुक्त रहने की अपील की गई तथा साथ-साथ नशे के दुश परिणामों को उधारण सहित समझाया गया । छात्र- छात्राओं को अच्छे से समझाया गया कि नशे से कैसे बचा जा सकता है तथा यह भी समझाया गया कि यदि किसी भी छात्र- छात्रा के घर मे, आस-पड़ोस या गांव मे कोई नशा करता है तो उसको कैसे समझायें और यदि कोई नशेड़ी व्यक्ति किसी भी प्रकार का उपद्रव करता है तो उसकी शिकायत Drug Free Himachal Mobile App के माध्यम से पुलिस को कैसे दें यह भी बताया गया । संगड़ाह बाजार मे एक व्यापारी हाल ही मे चरस बेचता हुआ पकड़ा गया जिसके विरुद्ध ND&PS ACT के तहत कार्यवाही अमल मे लाई गई थी । यदि महाविध्यालय में कोई भी व्यक्ति बाहर से आकर कोई भी नशा बेचता है या कोई छात्र-छात्रा बाहर से लाकर महाविद्यालय मे किसी भी प्रकार का नशा बेचता या प्रयोग करता है तो उसकी गुप्त सूचना भी Drug Free Himachal Mobile App के माध्यम से पुलिस को दें ।

डीएसपी शक्ति सिंह ने छात्र- छात्राओं को आजकल होने वाले Cyber Crime के बारे मे जानकारी दी  तथा इससे किस प्रकार सावधानी बरतें यह भी समझाया गया । खासकर छात्र- छात्राओं को social media Apps (Facebook, WhatsApp, Instagram etc.), Online Easy Transection Mobile Apps(UPI Apps- Google Pay, Paytm, Phonepe, Airtel Bank App rtc. ) तथा ATM Cards credit Cards का प्रयोग सावधानी से करने के बारे मे समझाया गया तथा इन सबका प्रयोग Cyber Crime मे कैसे होता उसके कुछ उदाहरण भी बताये गए ।

महाविद्यालय के छात्र- छात्राओं को उनके उज्जवल भविष्य से सम्बन्धित कई महत्वपूर्ण जानकारियां दी गई। छात्र-छात्राओं को यह बात अच्छे से बताई गई की उनको अपना career कैसे चुनना है तथा यदि वो IAS, HAS की तैयारी करना चाहते हैं तो कैसे अच्छी शुरुआत करनी है, यदि वह शिक्षक बन ना चाहते हैं बैंक में नौकरी करना चाहते हैं तो कैसे शुरुआत कर सकते हैl इसके साथ-साथ छात्र-छात्राओं को अन्य खेल-कूद व सान्सकृतिक प्रतियोगताओं मे बढ़-चढ़ कर भाग लेने के बारे मे बताया गया तथा तनाव मुक्त रहकर जीवन मे आगे बढ़ने की सीख दी गई ।

पुलिस ने महाविद्यालय के सभी प्राध्यापकों तथा छात्र- छात्राओं से यह भी अपील की गई की किसी भी अपराध की रोकथाम तथा अपराधी को पकड़वाने मे पुलिस का सहयोग करें।