शूलिनी यूनिवर्सिटी ने शीर्ष 100 विश्वविद्यालयों की लीग में प्रवेश किया

शूलिनी यूनिवर्सिटी ने शीर्ष 100 विश्वविद्यालयों की लीग में प्रवेश कर लिया है। शूलिनी यूनिवर्सिटी के चांसलर प्रो. पीके खोसला ने कहा कि इस तरह की प्रतिष्ठित रैंकिंग हासिल करना यूनिवर्सिटी के लिए बहुत गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि शूलिनी यूनिवर्सिटी अब अगले साल तक देश के शीर्ष 50 विश्वविद्यालयों में शामिल होने का प्रयास करेगी। हिमाचल प्रदेश स्थित शूलिनी यूनिवर्सिटी, जिसे सिर्फ 12 साल पहले स्थापित किया गया था, उसे भारत सरकार के नेशनल इंस्टीच्यूशनल रैंकिंग्स फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) द्वारा देश के शीर्ष 100 विश्वविद्यालयों में स्थान दिया गया है। 2021 की रैंकिंग केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने राष्ट्रीय राजधानी में एक समारोह में घोषित की।

शूलिनी यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ फार्मास्यूटिकल्स को देश भर में 36वें स्थान पर रखा गया है, जबकि प्रबंधन फैकेल्टी को 76-100 वर्ग में स्थान मिला है। यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग को देश में 103वां स्थान मिला है। यह पहली बार है जब हिमाचल प्रदेश में शीर्ष स्थान पर रहने वाली यूनिवर्सिटी को राष्ट्रीय स्तर पर शीर्ष 100 की सूची में शामिल किया गया है। पिछले चार साल से लगातार शूलिनी को 101-150 कैटेगरी में रैंक किया जा रहा था। ओवरऑल रैंकिंग में यह दिल्ली के उत्तर क्षेत्र के शीर्ष पांच विश्वविद्यालयों में शामिल है जिसमें पंजाब, हरियाणा, जम्मू और कश्मीर, उत्तराखंड और चंडीगढ़ शामिल है।