पच्छाद में भी विकास रूपी रथ को रुकने नहीं दिया जाएगा: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि कोरोना संकट नहीं होता तो प्रदेश में विकास की रफ्तार ही कुछ और होती। यह पहली बार है कि प्रदेश के किसी मुख्यमंत्री को इस वैश्विक महामारी का सामना करना पड़ा। बावजूद इसके सरकार ने नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं। सराहां के कुश्ती स्टेडियम में जनसभा को संबोधित करते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि विपक्षी नेता सहयोग के स्थान पर तरह तरह की ड्रामेबाजी करते रहे। हालांकि इस संकट में प्रदेश की जनता ने भरपूर सहयोग दिया।

3 अरब 15 करोड के उदघाटन व शिलान्यास

मुख्यमंत्री ने कहा कि पच्छाद में भी विकास रूपी रथ को रुकने नहीं दिया जाएगा। भाजपा यहां कांग्रेस के मुकाबले जीत का नया रिकॉर्ड बनाएगी। जिस प्रकार आज 3 अरब 15 करोड के उदघाटन व शिलान्यास हुए हैं इसी तरह जनता जीत का रिकॉर्ड भी बनवाएगी। इतने बड़े स्तर पर योजनाओं का लोकार्पण पहले कभी नहीं हुआ। आपका साथ इसी तरह बना रहा तो भविष्य में इससे भी बड़े रिकॉर्ड बनेंगे। गौरतलब है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर आज एक दिवसीय दौरे पर उपमंडल पच्छाद मुख्यालय सराहां पहुंचे। पच्छाद का उनका यह तीसरा दौरा था। इस अवसर पर उन्होंने 315 करोड़ की 50 से अधिक योजनाओं के शिलान्यास व उदघाटन किए वहीं करीब एक दर्जन घोषणाएं की। मुख्यमंत्री ने सराहां अस्पताल को 100 बेडिड, सराहां में बिजली बोर्ड व राजगढ़ में सिंचाई विभाग का डिवीज़न, सराहां के घिन्नी घाड़ व नारग में 33 केवी विद्युत सब स्टेशन, चन्दोल में विद्युत विभाग का सब डिवीजन व गागल शिकोर में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने की घोषणा की। इस अवसर पर बोलते हुए उन्होंने विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। मुख्यमंत्री हवाई मार्ग से कवागधार हेलीपेड पर पहुंचे जहां उनका स्वागत किया गया। उन्होंने शी हाट में ग्राम पंचायत बाग पशोग पंचायत द्वारा आयोजित जलपान का लुत्फ लिया जिसमें मुख्यमंत्री ने स्थानीय व्यंजनों का लुत्फ उठाया।

लोगों ने  गर्मजोशी के साथ किया स्वागत

सभा स्थल पर पहुंचे मुख्यमंत्री का स्थानीय लोगों ने स्वागत गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया। जैसे ही मुख्यमंत्री का काफिला का गाजे बाजे की गूंज के साथ सभा स्थल की तरफ बढ़ा एकाएक बूंदाबांदी शुरू हो गई। क्षेत्र में कई दिनों बाद मेघ इस तरह जमकर बरसे। इस अवसर पर शिमला संसदीय क्षेत्र से सांसद सुरेश कश्यप,विद्यायिका रीना कश्यप,कृषि विपणन बोर्ड के अध्यक्ष कृषि विपणन बोर्ड के अध्यक्ष बलदेव भंडारी व मंडल अध्यक्ष सुरेंद्र नेहरू ने भी अपने विचार रखे।