मोदी सरकार ने बेच दी 70 साल की गाढ़ी कमाई: रागिनी नायक

शिमला: कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता रागिनी नायक ने केंद्र की मोदी सरकार  (Modi Govt)देश की संपत्ति को बेचने का बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने राष्ट्रीय मौद्रिकरण पाइपलाइन (एनएमपी) के तहत ग्रेट इंडिया सेल लगा दी है और अगले 50 वर्ष तक देश की संपत्ति निजी हाथों में जाने वाली है. उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने सात साल में देश में कोई राष्ट्रीय संपत्ति नहीं बनाई, उलटे कांग्रेस (Congress) द्वारा 70 साल में खड़े किए गए सार्वजनिक उपक्रमों और अन्य राष्ट्रीय संपत्तियों को मौजूदा सरकार बेचने पर तुली है. इसके जरिए मोदी सरकार अपने चंद चहेते उद्योगपतियों को लाभ देने में लगी है. वे शुक्रवार को शिमला (Shimla) में प्रेस कांफ्रेंस में बोल रही थी.

रागिनी नायक ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार देश की जनता की गाढ़ी कमाई को निजी हाथों में सौंपने का काम कर रही है. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो कहते हैं, करते उससे उलट हैं. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने चुनावों में कहा था कि वे देश नहीं बिकने देंगे, लेकिन अब देश की संपत्तियों को बेचा जा रहा है. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के दावे और वादे खोखले साबित हुए हैं और आज देश की विरासत पर हमला बोला जा रहा है. उन्होंने कहा कि तीन कृषि कानून बाद में बने, लेकिन निजी उद्योगपतियों को गोदाम पहले बनने लग गए और इससे केंद्र सरकार की कार्यप्रणाली को समझा जा सकता है.