लंबी बीमारी के बाद लक्ष्मी सिंह मच्छान का निधन,

नाहन: हिमाचल प्रदेश में दबंग कर्मचारी नेता के तौर पर पहचान रखने वाले लक्ष्मी सिंह मच्छान का निधन हो गया है। हिमाचल अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष के तौर पर उन्होंने खासी पहचान बनाई थी।

पूर्व अध्यक्ष का लंबी बीमारी के बाद चंडीगढ़ में निधनका समाचार है। चूंकि वो कर्मचारियों के हितों को संरक्षित रखने के लिए हमेशा सक्रिय रहते थे, यही वजह है कि समूचे प्रदेश के कर्मचारियों के अलावा रिटायर हो चुके कर्मियों में भी शोक की लहर है।

उधर, सिरमौर अराजपत्रित कर्मचारी संघ ने गहरा शोक प्रकट किया है। महासंघ के पूर्व जिलाध्यक्ष वेद शर्मा, गीताराम तोमर, नरवीर कुमार शर्मा, रविदत्त भारद्वाज, विजेंद्र कंवर, सत्येंद्र ठाकुर, बीरबल शर्मा,  सुभाष चौधरी, गीताराम पराशर, रतन ठाकुर, जेएल कमल, विक्रम मोहिल, रतन ठाकुर, राकेश कुमार , नरेश परमार,प्रेमपाल ठाकुर,अशोक नेहरू,संजीब अरोरा, अजय कुमार

महासंघ के मौजूदा जिलाध्यक्ष राजेंद्र द्र बब्बी के अलावा कार्यकारिणी सदस्यों ने दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना की है।

कर्मचारी नेताओं ने कहा कि दिवंगत मच्छान ने एक दबंग कर्मचारी नेता के रूप में पहचान बनाई थी। ताउम्र कर्मचारियों के हितों की रक्षा के लिए संघर्ष किया। कर्मचारी नेताओं ने कहा कि नाहन व सराहां में अराजपत्रित कर्मचारी भवनों का निर्माण दिवंगत मच्छान के कार्यकाल में ही हुआ था।