सिरमौर: बारिश के चलते भारी भूस्खलन, मलबे धसें वाहन

हिमाचल प्रदेश में बारिश (Rain) जमकर कहर बरपा रही है. आलम यह है कि जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. हालांकि, कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है. लेकिन बारिश से परेशानी जरूर बढ़ी है. सूबे में बीते चार दिन से रोजाना दोपहर बाद बारिश होती है. हालांकि, शनिवार को मौसम (Weather) साफ बना हुआ है और धूप खिली है. लेकिन शनिवार को भी सूबे में बारिश होने का अनुमान है. इस संबंध में येलो अलर्ट (Yellow Alert) जारी किया गया है.

वहीं, शुक्रवार को सिरमौर जिले के उपमंडल राजगढ़ में भारी बारिश के चलते डिंबर पंचायत के भनोग के समीप हुए भारी भूस्खलन से आए मलबे के बीच तीन वाहन धंस गए. वाहनों को सड़क किनारे खड़ा किया गया था. अचानक पहाड़ी से आए मलबे के चलते भनोग के पास सड़क पर खड़ीं दो कारें एवं एक पिकअप चपेट में आ गई. इससे वाहनों को भी भारी नुकसान पहुंचा है. बाद में वाहनों को जेसीबी मशीन के मदद से निकाला गया.सिरमौर जिले के उपमंडल राजगढ़ के अधिकांश इलाकों में मूसलाधार बारिश हुई. जंगलों में हुए अग्निकांड से ढीली पड़ी मिट्टी अब बारिश के साथ बह रही है.

फसलों को हुआ काफी नुकसान
भारी बारिश और ओलावृष्टि से किसानों की गेहूं, टमाटर और फ्रांसबीन फसलें तबाह हो गईं. डिंबर, नानू, बगोड़िया और भनोग आदि क्षेत्रों में भारी बारिश के साथ ओलावृष्टि होने से गेहूं की तैयार फसल नष्ट हो गई, जबकि, टमाटर, शिमला मिर्च और फ्रांसबीन की फसलों को भी बहुत नुकसान हुआ है.

कैसा रहेगा मौसम
हिमाचल में मौसम विभाग ने 7 और आठ मई के लिए येलो अलर्ट जारी किया है. 9 और 10 मई को भी बारिश होगी. 11 मई के लिए फिर से येलो अलर्ट रहेगा. हालांकि, मौसम विभाग के अनुसार, 13 मई तक प्रदेश में बारिश का दौर जारी रहेगा. वहीं, बारिश की वजह से सूबे में तापमान स्थिर बना हुआ है. मौसम सुहावना होने से लोगों को गर्मी से राहत मिली है. ऊना में शुक्रवार को तापमान 36 डिग्री रिकॉर्ड किया गया है. वहीं, केलांग में सबसे कम 5 डिग्री तापमान दर्ज हुआ है.