हिमाचल : कोरोना वायरस के चलते शादी समारोह और अंतिम संस्कार के लिए 50 से ज्यादा भीड़ की अनुमति नहीं होगी

हिमाचल प्रदेश में आक्रामक हुए कोरोना वायरस के चलते शादी समारोह और अंतिम संस्कार के लिए 50 से ज्यादा भीड़ की अनुमति नहीं होगी। नवरात्र और रमजान के मद्देनजर धार्मिक स्थलों में आयोजनों पर भी रोक लगा दी गई है। इसके अलावा जयराम सरकार की महत्त्वाकांक्षी स्वर्णिम हिमाचल रथ यात्रा सितंबर माह तक स्थगित हो गई है। आस्था के चलते मंदिर दर्शनों के लिए खुले रहेंगे। हालांकि हवन, मुंडन, भजन-कीर्तन सहित किसी प्रकार के आयोजन की अनुमति नहीं होगी। कोविड की नई बंदिशों में सबसे अहम फैसला लिया गया  है कि अब सामाजिक आयोजनों के लिए इंडोर में 50 तथा आउटडोर में 200 से ज्यादा लोग इकट्ठे नहीं हो सकेंगे।
आउटडोर में 50 फीसदी क्षमता के साथ अधिकतम 200 संख्या की शर्त लगाई गई है। मंगलवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में उच्चाधिकारियों की बैठक के दौरान यह अहम निर्णय लिया गया है। हिमाचल में बढ़ते कोविड मामलों के दृष्टिगत राज्य सरकार ने हिमाचल दिवस के अवसर पर 15 अप्रैल को आरंभ होने वाली स्वर्णिम हिमाचल रथ यात्रा को फिलहाल स्थगित करने का निर्णय लिया है। यह रथ यात्रा प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व के स्वर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर आयोजित किए जाने समारोहों के उपलक्ष्य में आयोजित की जानी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में स्वर्णिम हिमाचल रथ यात्रा के आयोजन पर स्थिति सामान्य होने के बाद निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसी तरह अगले निर्देशों तक विवाह समारोहों में लोगों की संख्या नियंत्रित करने के लिए इनडोर 50 और आउटडोर अधिकतम 200 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति देने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा अंतिम संस्कार में केवल 50 व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति प्रदान की जाएगी।
कोविड के बढ़ते मामलों के चलते नौ अप्रैल को कैबिनेट की बैठक बुलाई गई है। इससे पहले आठ अप्रैल को सीएम की पीएम से वीसी होगी। सात अप्रैल को जयराम ठाकुर जिला के सभी उपायुक्तों के साथ कोविड प्रबंधों का जायजा लेंगे। इस आधार पर प्रदेश में नाइट कर्फ्यू और एंट्री के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट पर फैसला लिया जा सकता है।
संक्रमण प्रभावित जिलों में नाइट कर्फ्यू पर नौ अप्रैल को फैसला होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड की स्थिति पर चर्चा करेंगे। इसके अगले दिन जयराम मंत्रिमंडल की बैठक आयोजित होगी। इस दौरान कांगड़ा, हमीरपुर, ऊना, सोलन और सिरमौर सहित कुछ जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान हो सकता है।