बीते साल फर्स्ट और सेकेंड ईयर (2019-20) करीब 92 हजार छात्रों के परिणाम घोषित

हिमाचल प्रदेश में कोरोना (Corona Virus) के चलते शैक्षिणक संस्थान फिलहाल बंद हैं लेकिन परीक्षाओं को रद्द नहीं किया गया है. इस बीच अंडर ग्रेजुएशन के फर्स्ट, सेकेंड और फाइनल ईयर के लाखों छात्रों की परीक्षाएं 17 अप्रैल से शुरू हो रही हैं. कोविड के नियमों के बीच ये परीक्षाएं होंगी.इस बीच, हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय (HPU) ने बीते साल फर्स्ट और सेकेंड ईयर (2019-20) के प्रमोट किए गए करीब 92 हजार छात्रों के परिणाम भी घोषित कर दिए गए हैं. कोरोना के चलते शैक्षिणक सत्र 2019-20 की वार्षिक परीक्षाएं नहीं हों पाई थी, जिसके चलते सरकार ने छात्रों को प्रमोट करने के आदेश दिए थे.क्या बोले अधिकारी

इस बाबत एचपीयू के परीक्षा नियंत्रक डॉ.जेएस नेगी ने कहा कि सरकार के आदेशों के तहत बीते साल नवंबर माह में आधिकारिक तौर पर प्रथम और द्वितीय वर्ष के छात्रों को प्रमोट किया गया था, लेकिन इनका परिणाम जटिलताओं के कारण घोषित नहीं हो पाया था. अब ये रिजल्ट प्रोसेस करवाकर घोषित कर दिया गया है ताकि छात्र आने वाली परीक्षाओं की तैयारियां बिना किसी परेशानी से कर सकें. छात्र अपनी आईडी से विश्वविद्यालय की वेबसाइट और पोर्टल पर अपना रिजल्ट देख सकते हैं और मार्कशीट डाउनलोड कर सकते हैं.17 अप्रैल से परीक्षाएं
अब पिछला रिजल्ट घोषित होने के बाद बीए, बीकॉम और बीएससी के फर्स्ट,सेकेंड और थर्ड ईयर के छात्रों की वार्षिक परीक्षाएं 17 अप्रैल से शुरू हो रही हैं. विवि ने डेटशीट जारी कर दी है. फर्स्ट ईयर के पेपर 17 अप्रैल से 29 मई, सेकेंड और फाइनल ईयर की परीक्षाएं 17 अप्रैल से 19 मई तक आयोजित की जाएंगी. कोरोना के चलते कोई अड़चन आई तो डेटशीट में फेरबदल भी संभव है. इस संबंध में सभी महाविद्यालयों के प्रधानाचार्यों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं.  साथ कोविड नियमों के तहत केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर जारी निर्देशों की कड़ाई से पालना के आदेश जारी किए गए हैं. जो छात्र कोविड संक्रमित होने के चलते या कोरोना से संबंधित अन्य परेशानी के चलते परीक्षा नहीं दे पाएंगे, उन्हें स्थिति ठीक होने पर मौका दिया जाएगा.