हिमाचल: 351 कोरोना संक्रमित, सिरमौर के 52 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति ने दम तोडा

शिमला:  हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में कोरोना (Corona Virus) के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है. रोजाना अब कोरोना का ग्राफ बढ रहा है. शुक्रवार को 351 कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं, सिरमौर के 52 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति ने दम तोड़ दिया. 17 विद्यार्थियों समेत 351 लोगों के टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव (Positive) है. ऐसे में सरकार ने शैक्षणिक संस्थान 4 अप्रैल तक बंद कर दिए हैं.

कहां-कहां बरपा कहर
शुक्रवार को सोलन जिले में 50, कांगड़ा में 59, हमीरपुर 62, सिरमौर 39, ऊना 64, शिमला 25, मंडी 11, बिलासपुर 20, कुल्लू पांच और चंबा में चार नए मामले आए हैं. हमीरपुर में वृंदावन से लौटे 50 और तीर्थयात्री पॉजिटिव पाए गए हैं. बीते दिनों वृंदावन से दो बसों में 90 लोग लौट थे, जिनमें से 11 पहले ही पॉजिटिव आ चुके हैं. कांगड़ा जिले में आठ विद्यार्थियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. सोलन में एक निजी विश्वविद्यालय के नौ विद्यार्थी और एक शिक्षक पॉजिटिव मिला है.

कुल इतने सैंपल जांचे
हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना की जांच के लिए 7337 लोगों के सैंपल लिए गए. इनमें से 6118 की रिपोर्ट निगेटिव और 1079 सैंपलों की रिपोर्ट बाकी है. इसके साथ ही प्रदेश के कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 61967 पहुंच गया है. सक्रिय मामले अब 2124 हो गए हैं. अब तक 58807 संक्रमित ठीक हो चुके हैं और1017 की मौत हुई है.

कोरोना के मामले सामने आने के बाद हमीरपुर उपमंडल की 12 पंचायतों के कई घरों को मिनी कंटेनमेंट जोन बनाया गया है. इसके अलावा, कांगड़ा जिला के देहरा के तहत तहसील जसवां की ग्राम पंचायत रिड़ि कुठेड़ा में कोरोना पाजिटिव मामले सामने आने के पश्चात संबंधित क्षेत्र एवं ग्राम पंचायत के वार्ड नम्बर 1, 2, 3 एवं 4 आगामी तीन दिनों तक पूरी तरह से बंद रहेगा. एसडीएम देहरा धनबीर ठाकुर ने यह जानकारी देते हुए कहा कि कोरोना के एक साथ कईं मामले आने की वजह से प्रशासन को यह कदम उठाना पड़ा.

स्कूल किए गए बंद

हिमाचल में कोरोना (Corona Virus) ने एक बार फिर रफ्तार पकड़ ली है. प्रदेश में एहतियातन सभी शैक्षणिक संस्थान 4 अप्रैल तक बंद कर दिए गए हैं. जयराम सरकार (Jai Ram Government) द्वारा सभी स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, तकनीकी संस्थानों को बंद करने का फैसला लिया गया है. हालांकि वो कक्षाएं जिनके एग्जाम हो रहे हैं वो चालू रहेंगी. वहीं बोर्डिंग स्कूलों में होस्टल सुविधा जारी रहेगी.