मनाली-केलांग राष्ट्रीय राजमार्ग चट्टानें गिरने से अवरूद्ध, भूस्खलन व हिमखंड गिरने का बना खतरा

मौसम खुलने के बाद मनाली-लेह मार्ग में भूस्खलन व हिमखंड गिरने का खतरा लगातार बना हुआ है। लाहौल में कई जगहों पर हिमखंड खिसक रहे हैं। इसी कड़ी में सोमवार सुबह जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति के मूलिंग में मनाली-केलांग राष्ट्रीय राजमार्ग चट्टानें गिरने से अवरूद्ध हो गया। ऐसे में मनाली-केलांग मार्ग पर वाहनों की आवाजाही थम गई

सूचना मिलते ही बीआरओ ने मशीनरी मौके पर भेजी। सुबह सात से ग्यारह बजे तक दोनों तरफ वाहन फंसे रहे। हालांकि वाहनों की संख्या अधिक नहीं थी। लेकिन सड़क अवरूद्ध होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। सड़क को चार घंटे बाद वाहनों की आवाजाही के लिए बहाल किया गया। गौर रहे कि रविवार को लाहौल के उदयपुर और धुंधी में हिमखंड गिरे थे।

अटल टनल रोहतांग को फिलहाल पर्यटकों के लिए बंद रखा गया है। हिमस्खलन के खतरे को देखते हुए प्रशासन ने एहतियात बरतने की अपील की है। पुलिस अधीक्षक मानव वर्मा ने कहा कि खतरे को देखते हुए लोग यात्रा करने से बचें।