मौसम विज्ञान विभाग का पूर्वानुमान, कोहरा, बर्फबारी और बारिश से ठंड में और होगा इजाफा

नई दिल्‍ली:   भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) की ओर से जारी पूर्वानुमान के अनुसार अफगानिस्‍तान और पाकिस्‍तान के आसपास पश्चिमी विक्षोभ के कारण तूफानी हालात उत्‍पन्‍न हो रहे हैं. इसका सीधा असर भारत के उत्‍तरी पहाड़ी इलाकों पर देखने को मिलेगा. देश में सर्दी का दौर अब भी जारी है. पश्चिमी व‍िक्षोभ के कारण कई हिस्‍सों में बर्फबारी (Snowfall) और बारिश (Rain) से ठंड में और इजाफा देखने को मिल रहा है. वहीं

बारिश और बर्फबारी होने की संभावना

आईएमडी के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण जम्‍मू कश्‍मीर, गिलगित-बाल्टिस्‍तान, मुजफ्फराबाद और हिमाचल प्रदेश में 10 फरवरी को बारिश और बर्फबारी होने की संभावना है. यहां के ऊंचे इलाकों में तेज बर्फबारी होने के आसार जताए गए हैं. इसके साथ ही उत्‍तराखंड के उत्‍तरी हिस्‍से में भी 10 फरवरी को बर्फबारी और बारिश हो सकती है. उत्‍तराखंड में हाल ही में आई जल प्रलय के लिहाज से वहां का मौसम राहत कार्य के लिए काफी महत्‍वपूर्ण है.

मौसम विभाग के मुताबिक 10 और 11 फरवरी की सुबह उत्‍तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्‍ली और पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के अधिकांश इलाकों में सुबह के समय घने से लेकर अधिक घना कोहरा छाए रहने की संभावना है. आईएमडी ने संभावना जताई है कि 11 फरवरी के बाद इन इलाकों में कोहरा कम होने की उम्‍मीद है.

इसके अलावा उत्‍तर पूर्वी भारत में अगले 4-5 दिनों में अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जाएगी. इससे इस क्षेत्र में ठंड का प्रभाव कम होगा. उत्‍तर पूर्व में 2 से 4 डिग्री सेल्सियस की कमी दर्ज किए जाने का अनुमान है. ऐसे में अब यहां सर्द हवाएं भी नहीं चलेंगी.