एक्ट्रेस आलिया भट्ट की फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी इस साल सिनेमा घरों में होगी रिलीज

एक्ट्रेस आलिया भट्ट (Alia Bhatt) स्टारर फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी (Gangubai Kathiawadi)’ इस साल सिनेमा घरों में रिलीज होगी. संजय लीला भंसाली (Sanjay Leela Bhansali) के निर्देशन में बनी यह फिल्म मशहूर लेखक हुसैन जैदी की पुस्तक ‘माफिया क्वींस ऑफ मुम्बई’ के एक अध्याय पर आधारित है.

एक्ट्रेस आलिया भट्ट स्टारर फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी (Gangubai Kathiawadi)’ इस साल सिनेमा घरों में रिलीज होगी. संजय लीला भंसाली (Sanjay Leela Bhansali) के निर्देशन में बनी यह फिल्म मशहूर लेखक हुसैन जैदी की पुस्तक ‘माफिया क्वींस ऑफ मुम्बई’ के एक अध्याय पर आधारित है.

भंसाली की निर्माण कम्पनी ने ‘इंस्टाग्राम’ पर आठ सेकेंड का एक वीडियो शेयर करते हुए फिल्म के इस साल रिलीज होने की जानकारी दी. निर्माण कम्पनी ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ‘बहादुर, बिंदास और अपनी आंखों में शोले लिए ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ 2021 पर राज करने को तैयार है…’

फिल्म निर्माण से जुड़े सूत्रों के अनुसार फिल्म की शूटिंग उपनगरीय मुंबई स्थित फिल्म सिटी में पिछले साल अक्टूबर में दोबारा शुरू की गई थी. अब इस फिल्म की शूटिंग लगभग पूरी होने को है. फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ पहले 11 सितम्बर 2020 को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली थी, लेकिन कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण लागू लॉकडाउन की वजह से यह फिल्म अब तक रिलीज नहीं की जा सकी है. इससे पहले फिल्म के प्रोडक्शन के करीब एक साल बाद यह एक कानूनी मुसीबत में फंस गई है.

गंगूबाई के गोद लिए बेटे बाबूजी राओजी शाह ने एक्ट्रेस आलिया भट्ट, संजय लीला भंसाली और हुसैन जैदी (Hussain Zaidi) पर केस दर्ज कराया है. हुसैन जैदी माफिया क्वीन ऑफ मुंबई किताब के लेखक हैं जिस पर फिल्म बन रही है. शाह ने ये दावा किया है कि किताब के कुछ हिस्से सम्मानजनक नहीं हैं और उनकी निजता, स्वतंत्रता और स्वाभिमान को चोट पहुंचाते हैं.

उन्होंने प्रोडक्शन पर रोक लगाने की मांग की है. साथ ही उन्होंने ये भी मांग की है कि किताब के कुछ चैप्टर्स को हटाया जाए और उसके सर्कुलेशन पर भी रोक लगाई जाए. बॉम्बे सिविल कोर्ट में मामले से जुड़ी पहली सुनवाई हो चुकी है और फिल्म से जुड़े लोगों को 7 जनवरी तक इस पर जवाब देना है.

रिपोर्ट के अनुसार, शाह के वकील आलिया भट्ट, संजय लीला भंसाली और लेखक हुसैन जैदी के खिलाफ मानहानि, महिलाओं के अभद्र प्रतिनिधित्व और अश्लील सामग्री के प्रसार के खिलाफ एक आपराधिक मामला दर्ज करा सकते हैं. शाह ने कहा है कि जब से फिल्म का पोस्टर और प्रोमो आया है, तब से उनके इलाके में उन्हें परेशान किया जा रहा है. गंगूबाई मुंबई के कमाठीपुरा की एक महिला थीं, जिसे बेहद कम उम्र में देहव्यापार में धकेल दिया गया था. कई बड़े अपराधी उसके क्लायंट थे.