पंचायती राज चुनाव: 20 हजार अतिरिक्त कर्मचारियों की ड्यूटी लगेगी

हिमाचल  प्रदेश में प्रस्तावित पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव कराने के लिए 20 हजार अतिरिक्त कर्मचारियों की ड्यूटी लगेगी। राज्य चुनाव आयोग ने पिछले पंचायत चुनाव में पचास हजार कर्मचारियों की ड्यूटी नवंबर में लगा दी गई थी।  आयोग के अधिकारियों के मुताबिक पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव में पिछली बार कुल 7500 पोलिंग पार्टियां चुनाव ड्यूटी पर भेजी गईं थीं। कुल 3615 चुनाव अधिकारी तैनात किए थे।
पंचायतों की संख्या 3615
प्रदेश में इस बार पंचायतों की संख्या  3226 से बढ़कर कुल पंचायतों की संख्या 3615 तक पहुंच गई है। इसके अलावा पंचायतों के वार्डों की संख्या 21384, पंचायत समिति के वार्ड 1791 और जिला परिषद के वार्ड 249 हैं। इस हिसाब से प्रदेश में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव कराने के करीब 70 हजार कर्मचारियों की चुनाव ड्यूटी लगाई जा रही है।
इस बार प्रदेश में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव कराते समय कोरोना महामारी के संक्रमण की चुनौती से राज्य चुनाव आयोग को भी निपटना होगा। इसके लिए आयोग चुनाव ड्यूटी में पहली बार स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की चुनाव ड्यूटी लगाने के लिए विवश है। इस बार प्रत्येक मतदान केंद्र में पोलिंग पार्टियों की संख्या भी बढ़ेगी और चुनाव अधिकारियों की संख्या भी ज्यादा रहेगी।