20 साल बाद मां-बाप से बंधुआ महिला को मिलाने पर बेटी को सम्मान

अपने घर से हजारों मील दूर करीब 20 वर्षों से गुमनामी में जी रही एक महिला को सिरमौर पुलिस की मदद से उसके परिजनों तक झारखंड पहुंचाने में अग्रिम भूमिका निभाने वाली नाहन के कांशीवाला की एक बहादुर बेटी तनवी नरूला पर न केवल उसके परिजनों व सिरमौर के लोगों को फक्र है, अपितु पुलिस अधीक्षक सिरमौर ओमापति जमवाल ने बुधवार को पुलिस की जिला स्तरीय बैठक में उन्हें सम्मानित भी किया। तनवी नरूला की बदौलत एक परिवार को उनकी 20 वर्ष से भी अधिक समय से लापता बेटी वापस मिली है। झारखंड के एक परिवार अपनी बेटी की वापसी की उम्मीद ही खो बैठा था, परंतु उन्हें क्या पता था कि नाहन की एक बेटी उनकी बेटी को 20 वर्ष बाद उनसे मिलाएगी। तनवी नरूला ने समाजसेवी की भूमिका निभाते हुए इस बंधुआ युवती को नाहन पुलिस के साथ जुड़कर समाज के प्रति अपना महत्त्वपूर्ण योगदान दिया है। पुलिस अधीक्षक सिरमौर ओमापति जमवाल ने डीएसपी मुख्यालय मीनाक्षी भारद्वाज के साथ तनवी को उसके द्वारा किए गए एक उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया। गौर हो कि तनवी नरूला ने एक ऐसी महिला को उसके परिजनों तक पहुंचाने में महत्त्वपूर्ण योगदान दिया है, जो अरसे से अपने परिजनों से दूर थी। महिला को यह भी मालूम नहीं था कि वह कहां की रहने वाली है। तनवी ने बीड़ा उठा लिया कि वह उस महिला को उसके घर व परिजनों तक पहुंचाकर ही रहेगी। इसके लिए उसने पुलिस का सहयोग लिया।

इस बारे में नाहन पुलिस ने झारखंड पुलिस से संपर्क किया। इस लंबी कड़ी मशक्कत के बाद गुमनामी के सायों में जी रही महिला के परिजनों का आखिर पता लगा ही लिया गया। महिला को सुरक्षित रूप से उसके परिजनों के सुपूर्द कर दिया गया है। पुलिस अधीक्षक ओमापति जमवाल ने तनवी के जज्बे को सेल्यूट करते हुए उसे बुधवार को नाहन पुलिस लाइन में एक सादा समारोह आयोजित कर सम्मानित किया। वहीं, पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त हुए पुलिस अधिकारी प्रदीप को भी उसके द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया गया। प्रदीप ने बताया कि वह भले ही विभाग से सेवानिवृत्त हो चुके हों, मगर समाज के प्रति वह आज भी पुलिस बनकर ही कार्य कर रहे हैं। उधर, पुलिस अधीक्षक सिरमौर ओमापति जमवाल ने कहा कि पुलिस की सहायता करने को लेकर स्थानीय निवासी तनवी और प्रदीप को सम्मानित किया गया है। उन्होंने तनवी और प्रदीप से प्रेरणा लेने की बात करते हुए नागरिकों से भी अपील की है कि वह भी इस प्रकार के उत्कृष्ट कार्य करें।