17वें हिमाचल उत्सव की दूसरी सांस्कृतिक संध्या में पहाडी गायकूं ने बांधा समां

सोलन : 17वें हिमाचल उत्सव की दूसरी सांस्कृतिक संध्या में पहाडी गायक नरेंद्र नीटू, केके भारद्धाज, सुदर्शन दिवाना हिंदी गायक बबलू और नवोदित नंन्ही गायिका अनुशा जोशाी का जादू दर्शकों के सिर चढ कर बोला। टीवी रियलटी शो से लोकप्रिय हुई अनुषा जोशी ने एक मंझे हुए स्टार की तरह शानदार प्रस्तुति दी और पंजाबी गाने न गल मेरे वस दी रही, मैं गुड की डली और लैला मैं लैला जैसे हिट गीतों से दर्शकों को खूब झुमाया। इससे पहले मंच पर आए पहाड़ी गायक सुदर्शन दिवाना ने सिरमौरी नाटी और गिददे और केके भारद्धाज द्धारा शानदार सोलन जिला के लोकगीत पेश किए। दोनो की गायकों के नगमों पर युवा खूब थिरके। संध्या के दूसर भाग में बिलासपुर के गायक बबलू ने किशोर कुमार के गीत सुना माहौल को रूमानी बनाया तो सिरमौर के गायक नरेंद्र नीटू ने एक के बाद एक हिट हिंदी पहाड़ी गानों से संध्या को अपने नाम कर लिया।

तीसरी सांस्कृतिक संध्या में स्कूली बच्चों की देशभक्ति थीम पर गु्रप डांस प्रतियोगिता आयोजित हुई जिसमेें जानी मानी रंगकर्मी कुमारी सुनिता और श्रीमति मंजू भारद्धाज ने निर्णायक की भूमिका निभाई। गीता आर्दश विद्यालय, जीनियस ग्लोबल स्कूल, सोलन पब्लिक स्कूल ने भाग लिया। इसके अलावा एसजे डांसिंग जोन, आइएम डांस, आशू डांस एकडेमी, डीडीए डांस एकेडमी और अंकिता डांस एकेडमी के नंन्हे मुन्नों ने भी बेहतरीन डांसेज पेश किए। वीरवार को राज्य स्तरीय गायन प्रतियोगिता हिमाचल आईडल का फाइनल आयोजित होगा।

युवा मंडल के संस्थापक अध्यक्ष पंकज सूद, संस्थापक व उपाध्यक्ष मुकेश शर्मा और संस्थापक महासचिव र्कीती कौशल ने दूसरी संध्या में मुख्यातिथी पधारे उद्योगपति रामलाल गर्ग और उनकी पत्नी शशी गर्ग का स्वागत किया। संध्या में जीनियस स्कूल की मालिक नीति शर्मा, प्रदीप कुमार, श्रीमति संतोष सूद, श्रीमति कमला शर्मा और श्रीमति स्नेहलता कौशल खास मेहमान के तौर पर शामिल हुए।