हिमाचल: सरकार ने स्कूलों पर छोड़ा फैसला, छोटे बच्चों को बुलाओ या ऑनलाइन लगाओ कक्षाएं

हिमाचल प्रदेश शिक्षा विभाग ने प्राइमरी स्तर के छात्रों को कक्षाओं में बुलाने का फैसला स्कूलों पर छोड़ दिया है। 9 नवंबर को लिए गए फैसले में शिक्षा विभाग ने संशोधन किया है। उच्च शिक्षा विभाग के ओर संशोधित आदेशों में कहा गया है कि सीबीएसई और आईसीएसई से संबंद्ध स्कूल प्राइमरी स्तर के छात्रों को कक्षाओं में बुलाने के लिए अपने स्तर पर फैसला ले सकते हैं।

निजी स्कूल पेरेंट्स टीचर एसोसिएशन से चर्चा कर इस संदर्भ में आगामी फैसला ले सकते हैं। वहीं राज्य के सरकारी स्कूल और स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला से संबंद्ध निजी स्कूल 9 नवंबर को जारी हुए आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित करेंगे।

सीबीएसई और आईसीएसई से संबंद्ध स्कूलों को ऑनलाइन कक्षाओं का क्रम जारी रखना होगा। शिमला शहर के निजी स्कूलों के अभिभावकों की ओर से छोटी कक्षाओं के बच्चों को स्कूल बुलाने का विरोध जताया गया था। इस संबंध में उपायुक्त शिमला की ओर से सरकार को पत्र लिखा गया था।