हिमाचल: लैंडस्लाइड से 10 लोगों की मौत की आंशका, 2 शव मिले

धर्मशाला: हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा (Kangra) जिले में शाहपुर के बोह इलाके में बारिश के बाद भूस्खलन हुआ है. इसकी चपेट में आने से अब तक दो लोगों की मौत हुई है और 10 लोग लापता हैं. हालांकि, ये लोग मलबे में दफन हुए हैं. ऐसे में इनके जिंदा बचने की उम्मीदें काफी कम हैं. भूस्खलन (Landslide) की चपेट में 6 घर आ गए थे. एक महिला का शव बरामद हुआ है. यहां से पांच लोगों को रेस्क्यू किया गया है. बाहर निकाले गए लोग एक ही परिवार से हैं. इनमें पति, पत्नी और उनके तीन बच्चें हैं. इलाके के कुछ वीडियो भी सामने आए हैं, जिसमें एक शख्स यह भी कहता दिख रहा है कि वह भूस्खलन से पांच मिनट पहले ही मौके से निकल गया था.

स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी और रेवेन्‍यू विभाग के अनुसार, चार लोगों को रेस्क्यू किया गया है. हालांकि, देर रात एक बच्ची को भी मलबे से जिंदा निकाला गया. डीसी और एसपी कांगड़ा ने भी मौके का मुआयना किया है. वह दो किमी पैदल चलकर मौके पर पहुंचे, क्योंकि सड़क पर बना पुल भी बह गया है.

एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन ने बताया कि लग रहा है कि बोह इलाके में बादल फटा है. यहां भारी भूस्खलन हुआ है. चार लोगों को रेस्क्यू किया गया है. एक महिला का शव मिला है. 9 से 10 लोग मलबे में दबे हैं. उनके बचने की उम्मीद काफी कम है. वहीं, वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे और कहां भारी भूस्खलन हुआ है.

हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोमवार को प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में भारी वर्षा और बादल फटने की संभावित घटनाओं से हुए नुकसान पर चिन्ता व्यक्त की है. मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिला प्रशासन को प्रभावित क्षेत्रों में अविलंब राहत और बचाव कार्य सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने स्थानीय लोगों और पर्यटकों से नदी-नालों के किनारे न जाने का आग्रह किया है.