हिमाचल में तीन अग्निकांड; नगरोटा बगवां, शिमला और जवाली में करोड़ों की संपत्ति स्वाह

नगरोटा बगवां, शिमला, जवाली। नगरोटा बगवां के न्यू बस स्टैंड के पास अनुपम हार्डवेयर की दुकान में शुक्रवार रात करीब दो बजे आग गई। जानकारी के मुताबिक दुकान के भीतर रात को एक जोरदार ब्लास्ट हुआ, इसके बाद आसपास के लोग जागे और प्रशासन व फायर ब्रिगेड को सूचना दी। करीब पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। उधर, नगरोटा बगवां के विधायक अरुण कुमार कूका करीब चार घंटे मौके पर डटे रहे।

उन्होंने मौके पर पुलिस व प्रशासन को  मामले की गंभीरता से जांच के आदेश दिए हैं, क्योंकि एक माह में दो बार एक ही दुकान में आग लगना कई संदेश पैदा करता है। दूसरी ओर उपमंडल जवाली के अधीन पंचायत नरगाला के गांव सोहड़ा में शुक्रवार रात को शार्ट सर्किट से आग लगने के कारण करीबन डेढ़ लाख का नुकसान हो गया।

जानकारी अनुसार मिलकियत सिंह निवासी सोहड़ा ने बताया कि वह परिवार सहित कमरे में सोए हुए थे कि रात करीबन 11 कमरे में आग लग गई। इसके बाद कड़ी मशक्कत के बाद परिवार को कमरे से बाहर निकाला। कुछ ही देर में टीवी, लैपटॉप सहित अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान सहित 60 हजार की नकदी जलकर राख हो गई। गांववासियों को आग पर काबू पाने के लिए काफी मशक्कत की, लेकिन सब कुछ जलकर राख हो गया।
शिमला में इंजन घर के पास आग
शिमला के इंजनघर के समीप शनिवार सुबह एक रिहायशी मकान में आग लग गई। इसके कारण लाखों का नुकसान हुआ। हालांकि इस घटना में किसी जानी नुकसान की सूचना नहीं है। अग्निशमन कर्मी चार गाडिय़ों के साथ स्पॉट पर पंहुंचे और आग पर काबू पाया।