हिमाचल: भारी बारिश के बाद नाले में अचानक बाढ़ आने से गांव में अफरा-तफरी

कुल्लू:  हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले (Kangra) में 12 जुलाई को आए जल प्रलय के बाद अब कुल्लू में भी प्रकृति का कुछ ऐसा ही रौद्र रूप दिखा है. बुधवार रात को कुल्लू की सैंज घाटी (Sainj Valley Kullu) में भारी बारिश (Rain) हुई. इससे मलबा घरों में घुस गया. भारी बारिश के बाद से लोग सहमे हुए हैं. फिलहाल मूसलाधार बरसात से जानमाल का नुकसान नहीं हुआ है.

जानकारी के अनुसार, कुल्लू जिला की सैंज घाटी की भलाण-2 पंचायत में भारी बारिश हुई है. बीती देर रात मूसलाधार बारिश के बाद जौली नाले में अचानक बाढ़ आने से गांव में अफरा-तफरी मच गई. स्थानीय लोगों ने घरों से दूर जाकर खुद को सुरक्षित किया. बाढ़ का मलबा मकानों में घुस गया है. रात करीब 3 बजे नाले में बाढ़ आने से परेशानियों का सामना करना पड़ा.

5 मकानों में घुसा मलबा
पंचायत प्रधान पूर्ण चंद ने बताया कि सैंज घाटी में बीती रात भारी बारिश हुई है, जिसके बाद पंचायत के जौली गांव में बहने वाले नाले में बाढ़ आई और गांव के 5 मकानों में मलबा घुसा है और फसलों को भी भारी नुकसान पहुंचा है. उन्होंने कहा कि रात भर ग्रामीणों ने घरों से दूर रहकर जान बचाई. उन्होंने प्रशासन से मांग की कि गांव को बचाने के लिए नाले में क्रेटवॉल लगाई जाए.

सैंज-लारजी मार्ग बंद
बाढ़ से सैंज लारजी मार्ग पर तरेड़ा में भारी मलबा आने से यातायात अवरुद्ध हुआ है. लोक निर्माण विभाग की मशीनरी सड़क बहाली में जुट गई है. कुछ घंटों के भीतर यातायात बहाल किया जाएगा.