हिमाचल निर्माता डॉ वाई एस परमार की 115 वीं जयंती सराहां में बडी धूमधाम से मनाई गई

सराहां: हिमाचल निर्माता डॉ वाई एस परमार की 115 वीं जयंती आज सराहां स्तिथ सनातन धर्म सभा हाल मे बडी धूमधाम से मनाई गई। इस कार्यक्रम में कांग्रेस जिला अध्यक्ष कंवर अजय बहादुर, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गंगू राम मुसाफिर, व जिला परिषद सदस्य व डॉ परमार के पौत्र आनंद परमार ने दीप प्रज्वलित कर डॉ परमार की तस्वीर पर फूल चढ़ाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किए।
परमार जयंती के अवसर पर सराहां में करीब 300 कांग्रेसियो ने कार्यक्रम में भाग लिया। इस अवसर पर डॉ परमार की स्मृतियों को याद करते हुए मुसाफिर ने कहा कि डॉ परमार न होते तो आज हिमाचल नही होता। उनके द्वारा किये गए हिमाचल निर्माण के लिए योगदान को नही भुलाया है सकता। कार्यक्रम से पूर्व उपस्थित सभी लोंगों ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री स्व वीरभद्र सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की।
कार्यक्रम में कांग्रेस जिलाध्यक्ष कंवर अजय बहादुर ने डॉ परमार के साथ बिताए उन लम्हों को याद करते हुए सबके साथ सांझा किया। उन्होंने कहा कि डॉ परमार सरल और सौम्य स्वभाव के व्यक्ति थे और हमेशा ही प्रदेश हित को सर्वोपरि रखते थे। कंवर ने कहा कि डॉ परमार ने हिमाचल को बनाया और राजा वीरभद्र सिंह ने उसे संवारा है। इन फोनो ही दिवंगत विभूतियों ने हिमाचल प्रदेश को अस्तित्व में लाकर इसे विश्व मे पहचान दी।
इस मौके पर मण्डल अध्यक्ष बेलीराम शर्मा, पूर्व बीडीसी अध्यक्ष उषा तोमर, राजकुमार, दिनेश आर्य, संजय पाल, जिलापरिषद सदस्य नीलम शर्मा, मोनी ठाकुर, दयाल प्यारी, परीक्षा चौहान, विवेक शर्मा, राजेश, जगमोहन आदि सैंकड़ो कार्यकर्ता मौजूद रहे।