हिमाचल: गर्भवती पत्नी ने नेपाल से वीडियो कॉल पर किए शहीद पति के अंतिम दर्शन

शहीद बिलजंग गुरुंग की पत्नी के लिए देवर की वीडियो कॉल पति के अंतिम दर्शन की कड़ी बन गई। शहीद की पत्नी दीपा गुरुंग आठ माह की गर्भवती हैं और वह परिजनों के साथ नेपाल से हिमाचल के सुबाथू नहीं आ पाईं। सुबाथू में जब शहीद पति की अंतिम रस्में चल रही थीं तो उनकी पत्नी नेपाल में बैठकर अंतिम संस्कार के मोबाइल पर हो रहे प्रसारण देखकर रो रही थीं। शहीद के भाई तुलसी गुरुंग ने बताया कि उनकी भाभी दीपा गुरुंग को शहीद के अंतिम दर्शन के लिए नहीं लाया जा सका। ऐसे में उन्होंने मोबाइल से वीडियो कॉल पर शहीद बिलजंग की पूरी अंतिम यात्रा के दर्शन करवाए। शहीद बिलजंग गुरुंग दो महीने पहले ही छुट्टी लेकर नेपाल में अपने परिजनों के साथ खुशियां बांटने गए थे।

लेकिन परिजनों को मालूम नहीं था की हंसी खुशी के ये पल बस अब कुछ दिनों के ही रह गए हैं। छुट्टी के बाद बिलजंग एक बार फिर भारत चीन की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तैनात हो गऐ। 3 दिसंबर को खराब मौसम में अपनी पोस्ट की निगरानी करते हुए अचानक ही बिलजंग बर्फ की खाई में जा गिरे। साथियों के कड़े प्रयास के बावजूद बिलजंग को बर्फ से निकालने से पहले ही बिलजंग शहीद हो गए। शहीद के पिता भी अपने बेटे की यूनिट से ही सेवानिवृत्त होकर अब डीएसआई के तहत भारत की रक्षा में तैनात हैं। जबकि भाई 1/4 जीआर में ही देश की रक्षा के लिए जम्मू की सीमाओं पर तैनात हैं। शहीद के भाई तुलसी गुरुंग ने बताया कि बिलजंग स्कूल के समय से ही बहादुर रहा है।