हिमकेयर से दिल और किडनी का इलाज फ्री, लाभार्थी परिवारों को मिलेगा फायदा

हिमाचल सरकार ने हिम केयर कार्ड योजना से जुड़े हजारों परिवारों को बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने किडनी ट्रांसप्लांट समेत हार्ट से संबंधित कई तरह के ऑपरेशन इसी में जोड़ दिए हैं। अब अगर राज्य में किसी भी मरीज को हार्ट से संबंधित बीमारी का ऑपरेशन करना पड़े, तो हिम केयर कार्ड होने पर फ्री होगा। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस संबंध में जल्द ही अधिसूचना भी जारी होगी। हिम केयर कार्ड योजना में पहले इस तरह के मेजर ऑपरेशन कवर नहीं होते थे।

ऐसे में अब इस कार्ड में किडनी ट्रांसप्लांट को भी जोड़ दिया गया है। ऑपरेशन करने से लेकर उसके बाद होने वाली दवाओं का खर्च भी अब लाभार्थियों को अपनी जेब से नहीं देना होगा। इस ऑपरेशन पर साढ़े चार लाख रुपए का खर्चा आता है।

गरीब परिवारों को इससे खासा लाभ होगा। वहीं कार्डियक रीसिकरोनाइजेशन थैरेपी का खर्चा भी हिम केयर कार्ड लाभार्थियों को अपनी जेब से नहीं देना होगा। इस थैरेपी में हार्ट को सुचारू रूप से चलाए रखने में मदद मिलती है। इस पर भी 3.80 लाख से चार लाख रुपए का खर्चा आता है। इंटरा कार्डिक डेफिड्रिलेटर इंस्ट्रेन का उपचार भी हिम केयर कार्ड योजना में जोड़ दिया गया है। यह भी एक तरह की हार्ट सर्जरी है। इस पर करीब तीन लाख 20 हजार का खर्चा आता है।

वहीं, शरीर के अंदर बंद पड़ी वेन को पता करने के लिए भी एक तरह का अल्ट्रासाउंड किया जाता है, ताकि पता चल सके कि शरीर के किस हिस्से में दिक्कत है। इस पर 45 से 50 हजार का खर्चा होता है। यह भी अब मुफ्त होगा। वहीं, ऑप्टिकल अल्ट्रासाउंड भी अब हिमकेयर कार्ड योजना के दायरे में लाया गया है। इस पर भी करीब 70 हजार से लेकर एक लाख रुपए तक का खर्चा आता है।