स्वर्णिम हिमाचल समारोह: अगले 25 साल में नंबर वन राज्य बनेगा हिमाचल

स्वर्णिम हिमाचल के अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने विश्वास जताया कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में हिमाचल विकास में लंबी छलांग लगाएगा। उन्होंने कहा कि 75वीं वर्षगांठ पर हिमाचल देश का पहला राज्य बनकर उभरेगा, यही हमारा लक्ष्य है। हिमाचल की देश में अपनी छवि है, यहां के लोग ईमानदार और सादगी से भरे हैं, इस पहचान को यहां के लोगों को कायम रखना है। उन्होंने प्रदेश के लोगों का आह्वान किया कि उजाले का मजा लेना है, तो अंधकार को याद रखना। यानी पचास साल के सफर में हिमाचल ने क्या उतार-चढ़ाव देखे और प्रदेश यहां तक कैसे पहुंचा, इसे भूलना नहीं है।

 रिज पर सरकार द्वारा आयोजित स्वर्णिम हिमाचल समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि सादगी हमारी ताकत है, इस पर चलते हुए हिमाचल को 75 साल का होने तक नंबर वन राज्य बनाने का लक्ष्य लेकर चलना है। उन्होंने कहा कि हिमाचल ने बहुत कष्ट सहे हैं और बहुत मोड़ देखे हैं। आज इस बात की खुशी है कि तमाम बाधाओं को पार करते हुए हम अच्छे राज्य के रूप में अग्रसर हो रहे हैं। एक वक्त ऐसा भी था, जब हिमाचल में छोटी-छोटी पगडंडियां होती थीं। सड़कें न के बराबर थीं। अगर कोई बीमार हो जाता था, तो गांव के लोग चारपाई पर कोसों का सफर तय कर उसे स्वास्थ्य केंद्र तक पहुंचाते थे। यही नहीं, शिक्षा के लिए इलाका या जिलों को तो क्या, प्रदेश छोड़कर जाना पड़ता था। आज परिस्थितियां बदली हैं। हिमाचल एक विकसित राज्य के रूप में खड़ा है।

पीएम मोदी ने विकास को दिए पंख

जेपी नड्डा ने कहा कि नरेंद्र मोदी के पीएम बनने पर हिमाचल को विशेष राज्य का दर्जा वापस मिला है। अटल टनल का काम रुका हुआ था, जो मोदी सरकार ने पूरा किया। वह कार्यक्रम में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के नाते नहीं, बल्कि हिमाचली के नाते आए हैं। गृहमंत्री अमित शाह ने भी कार्यक्रम में शिरकत करनी थी, परंतु व्यस्तता के चलते वह नहीं आ सके। उन्होंने कहा कि अगली बार जब भी मौका मिलेगा, वह हिमाचल जरूर आएंगे।

अनुराग बोले, बड़े भाई जयराम के नेतृत्व में बढ़ेंगे आगे

शिमला। स्वर्णिम हिमाचल कार्यक्रम में पहुंचे केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने साफ कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में हिमाचल विकास की नई बुलंदियां छुएगा। उन्होंने कहा कि बड़े भाई जयराम ठाकुर के साथ मिलकर आगे बढ़ेंगे और दिल्ली से मदद दिलाने में सहयोग करेंगे।

हिमाचल के विकास में सभी का योगदान

भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने इस दौरान हिमाचल के पहले सीएम डा. वाईएस परमार को भी याद किया। उन्होंने कहा कि पीठ पर पिट्ठू रखकर चलने वाले परमार का योगदान कैसे भुलाया जा सकता है। इन्फ्रास्ट्रक्चर में यदि हिमाचल को अवार्ड मिला, तो वीरभद्र सिंह बधाई  के पात्र हैं। हिमाचल में पानी की किल्लत शांता कुमार के कार्यकाल में दूर हुई। बिजली रॉयल्टी भी शांता कुमार की देन है। प्रेम कुमार धूमल गांव-गांव तक सड़क पहुंचाने वाले सीएम बने। हिमाचल को इस पड़ाव पर पहुंचाने के लिए सबका योगदान रहा है।

15वें वित्तायोग पर टिकी कई उम्मीदें

 सीएम बोले, पहाड़ जैसी मुश्किलों से निकाली उन्नति

 सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों का विकास में महत्त्वपूर्ण योगदान

 बल्क ड्रग पार्क होगा मौजूदा सरकार की बड़ी उपलब्धि

राज्य ब्यूरो प्रमुख, शिमला

स्वर्णिम हिमाचल समारोह में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि 15वें वित्तायोग से प्रदेश को बड़ी मदद मिलने की उम्मीद है, जैसा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा। उन्होंने कहा कि निवेश के लिए प्रयास चल रहे प्रयासों में कोरोना बाधक बना है, परंतु फिर भी जल्द 10 हजार करोड़ का निवेश यहां पर होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहाड़ जैसी मुश्किलों से निकलकर हिमाचल ने उन्नति का रास्ता तय किया है। आज हिमाचल नंबर वन बनने की ओर अग्रसर है। हिमाचल को बल्क ड्रग फार्मा पार्क मिलता है, तो यह उनकी सरकार की एक बड़ी उपलब्धि होगी।  हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व दिवस के स्वर्ण जयंती समारोह में जयराम ठाकुर ने अब तक के सभी मुख्यमंत्रियों को याद किया। उन्होंने हिमाचल के विकास के लिए सभी के योगदान को जमकर सराहा।

सीएम ने हिमाचल निर्माता डा. वाईएस परमार सहित अब तक के सभी मुख्यमंत्रियों के नाम मंच से लिए। मुख्यमंत्री ने सबसे लंबे समय तक सीएम रहे वीरभद्र सिंह की भी खूब तारीफ  की। उन्होंने हिमाचल के पचास साल के सफर को शानदार बताया और कहा कि इस पहाड़ी राज्य ने तरक्की के कई आयाम छुए हैं। उन्होंने स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के हिमाचल प्रेम को श्रद्धा से याद किया। उन्होंने पूर्व सीएम शांता कुमार की योजनाओं, पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल के कार्यों को भी याद किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की तारीफ करते उन्होंने कहा कि आज देश को उनके जैसा मजबूत नेतृत्व मिला है। वह भारत के ही नहीं, विश्व के नेता के तौर पर पहचान बना चुके हैं। सीएम ने जेपी नड्डा के हिमाचल के प्रति किए गए कार्यों का ब्यौरा दिया। आयुष्मान योजना, बिलासपुर एम्स, पीजीआई सेटेलाइट सेंटर को उन्होंने श्री नड्डा की देन बताया। सीएम ने कहा कि प्रदेश ने बेशक विकास की नई इबारत लिखी है, लेकिन अब भी बहुत कुछ किया जाना बाकी है। पचास साल पहले प्रति व्यक्ति आय 651 रुपए थी, जो अब 1.95 लाख रुपए सालाना से अधिक हो गई है। ऐसे ही विकास के कई अन्य सफल मील पत्थर हासिल किए हैं।

 उन्होंने अपनी सरकार के तीन साल के कार्यकाल का भी जिक्र किया और जनमंच जैसी योजनाओं का ब्यौरा दिया। सीएम जयराम ठाकुर ने हिम केयर योजना को प्रदेश के लिए वरदान बताया। गंभीर रोगियों के लिए सहारा योजना सचमुच सहारा बनी है। बुजुर्गों के लिए पेंशन की आयु सीमा घटाने को उन्होंने समाज कल्याण का नया युग बताया।  जयराम ठाकुर ने पर्यटन के क्षेत्र में नई योजनाओं को लाने का भरोसा दिया। उन्होंने अटल टनल के महत्त्व को रेखांकित किया और एयर कनेक्टिविटी की जरूरत पर जोर दिया, ताकि विश्व का पर्यटक हिमाचल आसानी से आ सके। मुख्यमंत्री ने कोविड संकट के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व के सहयोग से हिमाचल में किए गए कार्यों का जिक्र किया और कहा कि अब प्रदेश में कोरोना का संकट काफी हद तक टल गया है।

साल भर चलते रहेंगे स्वर्ण जयंती कार्यक्रम

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वर्ण जयंती आयोजन के अवसर पर सरकार अब तक के सफर में शामिल रहे सपूतों की स्मृतियों को स्थायी बनाएगी। स्वर्ण जयंती रथ यात्रा का कार्यक्रम होगा। नई पीढ़ी को इतिहास से रू-ब-रू करवाने के लिए कई कार्यक्रम होंगे। ये कार्यक्रम साल भर चलेंगे।