सीबीएसई-आईसीएसई बोर्ड सहित हिमाचल के सभी स्कूल सात नवंबर तक बंद

हिमाचल के सभी स्कूल पहली से सात नवंबर तक बंद रहेंगे। जिला आपदा प्रबंधन अथॉरिटी की ओर से इस बारे में सभी स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं। पहले एचपी बोर्ड के स्कूलों के लिए ये आदेश जारी किए थे, लेकिन अब राज्य में सभी स्कूल बंद रहेंगे। जिलों के डीसी को अपने स्तर पर ये आदेश जारी करने के लिए कहा गया है। इसमें सीबीएसई और आईसीएसई एफिलेटिड स्कूलों को भी अब बंद करने के निर्देश जारी किए गए हैं। मुख्य सचिव की ओर से जारी आदेशों में कहा गया है कि सभी जिला के एसपी और एसडीएम की यह जिम्मेवारी रहेगी कि इन आदेशों को तुरंत प्रभाव से लागू किया जाए। यानि कोरोना की चेन तोडऩे के लिए स्कूलों में आज से फेस्टिवल ब्रेक है।

पहली से सात नवंबर तक स्कूलों में छुट्टियां हैं। शिक्षक, गैर शिक्षक सभी के लिए यह अवकाश होगा। इस दौरान ऑनलाइन पढ़ाई भी नहीं होगी। शिक्षा विभाग ने इसके आदेश पहले ही स्कूलों को जारी कर दिए हैं। आठ नवंबर को स्कूल खुलेंगे। सरकार इस दिन दोबारा स्कूलों में कोरोना की समीक्षा करेगी। इसमें देखा जाएगा कि अवकाश के दौरान स्कूलों में कोरोना के केस कितने कम हुए। इसी के आधार पर स्कूलों में नियमित कक्षाएं जारी रखने का निर्णय लिया जाएगा। प्रदेश के स्कूलों में शनिवार को 26 नए छात्र पॉजिटिव आए हैं। इसमें सबसे ज्यादा कांगड़ा जिला का ग्राफ है, जहां लगातार मामले बढ़ते जा रहे हैं। शिक्षा विभाग ने सभी स्कूलों को निर्देश जारी किए हैं कि वे एसओपी का सख्ती से पालन करें। निदेशक उच्चतर शिक्षा विभाग डा. अमरजीत शर्मा ने कहा कि रोजाना सभी जिलों से कोरोना की फीडबैक ली जा रही है। उन्होंने कहा कि जहां पर भी बच्चे कोरोना पॉजिटिव आएंगे, वहां पर कांटेक्ट ट्रेसिंग करवाई जा रही है, ताकि संपर्क में आए अन्य बच्चों को क्वारंटाइन किया जा सके।

कांगड़ा में एक ही दिन में 19 छात्र संक्रमित
कांगड़ा में ही एक दिन में 19 छात्र पॉजिटिव आए हैं। इसके अलावा बिलासपुर में एक, चंबा एक, हमीरपुर दो, शिमला और ऊना जिला में एक-एक छात्र कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक अभी तक सरकारी स्कूलों में 471 बच्चे कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। इसमें से 65 रिकवर हो चुके हैं, जबकि 349 एक्टिव केस हैं। स्कूलों में अभी भी 404 एक्टिव केस हैं। इनमें 31 मामले बिलासपुर जिला के हैं। चंबा में 6, हमीरपुर में 35, कांगड़ा में 228, लाहुल-स्पीति में 3, मंडी में 17, शिमला में 4, सोलन में 6 और ऊना में 74 एक्टिव केस हैं। वहीं कांगड़ा जिला में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं।