सराहां: ग्राम पंचायत व सांसद सुरेश कश्यप के प्रयासों से बन पाएगा शहीद स्मारक

उपमंडल मुख्यालय सराहां में शहीद स्मारक बनाने का भूतपूर्व सैनिक व अर्धसैनिक संगठन का सपना साकार होने वाला है। सांसद व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने शहीद स्मारक के लिए बजट देने का वादा किया है। उन्होंने कहा कि इसमें पैसों की कमी आढ़े नहीं आने दी जाएगी। शहीद स्मारक के लिए उन्होंने 5 लाख दिए हैं जिसकी घोषणा वीरवार को विधायक रीना कश्यप ने की।

 

पच्छाद के भूतपूर्व सैनिक गदगद
सांसद सुरेश कश्यप ने दिए 5 लाख, भूतपूर्व सैनिकों के एक कार्यक्रम में विधायक रीना कश्यप ने की घोषणा, कहा – सराहां में शहीद स्मारक बनाना गौरव का विषय नहीं आने दी जाएगी बजट की कमी, सैनिक विश्राम गृह के लिए दिए 2 लाख 15 हजार.

पहले ये संगठन अलग अलग इस मांग को उठा रहे थे जिस पर न केवल प्रशासन बल्कि राजनेता भी असमंजस की स्थिति में थे। लेकिन इस मांग पर दो दिन पहले ही यह संगठन एक हो गए। जिसमें संयोजक बने संजय राजन ने अहम भूमिका निभाई। भूतपूर्व सैनिकों के एक होते ही नेताओं ने भी भूमि व बजट देने में देरी नहीं कि।

सराहां में शहीद स्मारक की मांग को लेकर गठित संयुक्त मोर्चा की स्थानीय जंज घर में एक विशेष बैठक हुई जिसमें सांसद सुरेश कश्यप व विधायक रीना कश्यप को शामिल होना था लेकिन व्यस्तता के चलते सांसद नहीं पहुंच पाए। इस पर विधायक रीना कश्यप ने भूतपूर्व सैनिकों की समस्याओं को सुना। इस अवसर पर एसडीएम डॉ शशांक गुप्ता ने भी विचार रखे।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सराहां में शहीद स्मारक बने यह गर्व का विषय है। इसके निर्माण के लिए उन्होंने सांसद सुरेश कश्यप की तरफ से 5 लाख की घोषणा की। विधायक ने सैनिक विश्राम गृह के लिए दो लाख व फर्नीचर के लिए 15 हजार देने की भी घोषणा की। जबकि सराहां पंचायत के उप प्रधान नरेंद्र गोसांई ने 21 हजार देने की घोषणा की।

गौरतलब है कि सांसद सुरेश कश्यप जहां स्वयं एक सैनिक रहे हैं वहीं एसडीएम डॉ शशांक गुप्ता भी आर्मी ऑफिसर रहे हैं। पच्छाद के भूतपूर्व सैनिकों को इनसे काफी उम्मीदें हैं।
इसके लिए सैनिक संगठन ने सांसद सुरेश कश्यप, विधायक रीना कश्यप, एसडीएम डॉ शशांक गुप्ता व ग्राम पंचायत का आभार प्रकट किया है। इस अवसर पर संयुक्त मोर्चा के संयोजक संजय राजन के अलावा एकता मंच के अध्यक्ष लाल चंद, पूर्व अध्यक्ष मदन सिंह ठाकुर, अर्धसैनिक बल संगठन के जिलाध्यक्ष देव दत्त शर्मा, प्रितपाल सिंह, सुलक्षण गौतम, सैना मेडल लेखराज शर्मा सहित दर्जनों पूर्व सैनिक मौजूद थे।