“हर घर पाठशाला” सरकार एवं शिक्षा विभाग की तरफ से एक सराहनीय कदम

सोलन (सचिन भरद्वाज ): लॉकडाउन के दौरान शिक्षा का स्तर बरकरार रहे , इसका खास ख्याल रखा जा रहा है। एक ओर तो जहाँ शिक्षकों को विद्यार्थियों की ऑनलाइन क्लासेज लेने के लिया कहा गया वहीँ कुछ शिक्षकों ने अपने विद्यार्थियों की सीख के लिए और उनका पाठ्यक्रम पीछे न छूट जाये , डिजिटल प्लेटफार्म जैसे व्हाट्सप्प , यूट्यूब , ज़ूम ऐप्प का भरपूर फायदा उठाया।

अपने शिक्षकों का स्तर बनाये रखने के लिए , शिक्षा विभाग ने भी कई उपयोगी तरीके अपनाये,  ऐसा ही एक तरीका था शिक्षकों का सर्वेक्षण16 मई 2020 को हिमाचल के सारे शिक्षकों का अनिवार्य सर्वेक्षण हुआ जिसमें सभी सरकारी शिक्षकों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। इस सर्वेक्षण के माध्यम से शिक्षकों ने ” हर घर पाठशाला ” प्रोग्राम को बेहतर बनाने के लिए अपनी राय और सुझाव रखे।

यह सरकार एवं शिक्षा विभाग की तरफ से एक सराहनीय कदम क्योंकि कोरोना कहर ने हमारे जीने के ढंग को बिल्कुल बदल दिया है तो शिक्षा प्रणाली पीछे कैसे रह सकती है।