संगड़ाह: विधायकों की गरीबी दूर करने के लिए संगड़ाह में जुटाया चंदा

सिरमौर जिला के उपमंडल मुख्यालय संगड़ाह में विभिन्न संगठनों से जुड़े लोगों द्वारा प्रदेश के विधायकों की गरीबी दूर करने के लिए चंदा राशि एकत्रित की गई। चंदा राशि एकत्र करने में जुटे ब्रम्हानंद शर्मा, रणजीत चौहान, चेतन, राजेश व जगदीश आदि ने कहा कि, वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के विधायकों के वेतन व भत्ते करीब दो गुना बढ़ाए जाने की कवायद का प्रमुख विरोधी दल कांग्रेस द्वारा भी विरोध न किए जाने से यह साबित हो चुका है कि, जनता की गाढ़ी कमाई हमारे कथित जनसेवक दिल खोलकर अपनी भलाई के लिए खर्च करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि, 51 हजार करोड़ से ज्यादा कर्ज में डूबे हिमाचल में एक और जहां और जहां आऊट सोर्स व एसएमसी जैसी भर्तियों से बेरोजगारों का आर्थिक शोषण किया जा रहा है, वहीं विधायकों व मंत्रियों के वेतन दोगुना बढ़ाए जाने से जनता के खजाने को सरकार दिल खोलकर लुटा रही है।

सरकार के दौहरे मापदंडों की गैर राजनीतिक संगठनों ने निंदा की। युवाओं ने कहा कि, पहली किस्त में हिमाचल के सभी माननीयों के लिए एक रुपए अथवा कुल 68 रुपए का ड्राफ्ट माननीय विधानसभा अध्यक्ष के नाम भेजा गया है। सरकार द्वारा उक्त फैसला वापस न लिए जाने की सूरत मे बार-बार विधायकों व मंत्रियों की आर्थिक मदद की जाएगी। चंदा जुटाने वालों ने प्रधानमंत्री मोदी से भी उक्त मामले में हस्तक्षेप की अपील की। इस दौरान कुछ भाजपा व कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बहस करते हुए चंदा देने से इन्कार कर दिया।