शुभ घड़ी आई…हिमाचल पहुंची कोरोना की दवाई, आठ बड़े बॉक्सों में पहुंची 93 हजार डोज

मोहाली एयरपोर्ट से हिमाचल के लिए कोविड वैक्सीन आखिरकार गुरुवार देर शाम सात बजे शिमला पहुंच गई। स्वास्थ्य विभाग शिमला की राष्ट्रीय टीकाकारण की दो गाडि़यों में आठ बड़े बॉक्सों में वैक्सीन की 93 हजार डोज शिमला के मुख्य स्टोर परिमहल पहुंची। इसके बाद रात को ही यहां से छोटे-छोटे बॉक्सों में वैक्सीन मंडी और कांगड़ा के रीजनल सेंटरों में भेजी गई। यहां पर सभी डिब्बों पर बैचिंग कर कोरोना वैक्सीन से लदे वाहनों को रवाना किया गया। इसके अलावा शिमला के परिमहल में ही कंट्रोल रूम बनाया गया है। यहीं से पूरे प्रदेश की मॉनिटरिंग की जाएगी। हर घटना का यहां पर अपडेट रहेगा। इसके लिए यहां पर टीम लगाई गई है। स्वास्थ्य विभाग के सचिव अमिताभ अवस्थी भी मौके पर मौजूद रहे। प्राप्त जानकारी के अनुसार मोहाली से दोपहर करीब तीन बजे हिमाचल से गए स्वास्थ्य अधिकारियों ने कोविशील्ड को रिसीव किया। इसके बाद राष्ट्रीय टीकाकरण के दो वाहनों में इस वैक्सीन को हिमाचल लाया गया।

अंदर कोल्ड डिब्बो में वैक्सीन को स्टोर किया गया था। पुलिस की एस्कोर्ट टीम के साथ वैक्सीन को सेफ तरीके से  लाया गया। करीब सात बजे वैक्सीन यहां पहुंची। एहतियात के साथ वैक्सीन को स्टोर किया गया और इसके बाद पूरी जांच करने के बाद वैक्सीन को अन्य वाहनों में रीजनल सेंटरों में भेजा गया। यह दवाई कांगड़ा में टांडा मेडिकल कालेज और मंडी में नेरचौक मेडिकल कोलेज में उतारी जाएगी। इसके बाद वैक्सीन शुक्रवार देर शाम तक प्रदेश के विभिन्न केंद्रों में पहुंचाई जाएगी। प्रदेश वैक्सीन के आने की खुशी अधिकारियों के चेहरे पर साफ देखी जा सकती थी। रीजनल सेंटरों के लिए भेजी गई वैक्सीन बैच के साथ भेजी गई, जिसका हर एक रिकार्ड रखा गया। सभी सीएमओ को भी सूचित कर दिया गया कि वैक्सीन रवाना हो गई है। सभी को यह कहा गया कि वैक्सीन पहुंचने के बाद अपडेट करें और 15 जनवरी को इन्हें अपने सेंटरों तक पहुंचाएं, ताकि 16 जनवरी से वैक्सीन लगाने का कार्य शुरू हो सके।

40 हजार को लगेगा टीका

पहले चरण में स्वास्थ्य विभाग के 40 हजार कर्मियों को यह टीका लगाया जाएगा। एक टीका लग जाने के बाद दूसरा टीका 23 दिन बाद लगाया जाएगा। 42 दिन तक परहेज करना होगा, इसके बाद ही एंटीबॉडी बनना शुरू होंगे। करीब पांच हजार स्वास्थ्य कर्मी इस टीकाकारण को पूरा करवाएंगे।

46 केंद्रों में लगेगी वैक्सीन

पहले चरण के लिए 46 केंद्रों में यह वैक्सीन स्वास्थ्य कर्मियों को दी जानी है। सुबह नौ बजे से सभी केंद्रों में वैक्सीन लगाने का कार्य शुरू हो जाएगा। सभी सेंटरों में पांच-पांच सदस्यों की टीम तैनात रहेगी, जोकि पूरे प्रोसेस को पूरा करेगी। धर्मशाल, मंडी में जोनल लेवल के स्टोर बनाए गए हैं।