शिमला: भारतीय मजदूर संघ अपनी मांगों लेकर किया धरना-प्रदर्शन

हिमाचल प्रदेश राज्य सचिवालय शिमला में भारतीय मजदूर संघ अपनी मांगों लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहा है। बड़ी संख्या में संघ कार्यकर्ता सचिवालय गेट के पास एकत्र हुए हैं और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी हो रही है। इस बीच कई संघ कार्यकर्ताओं की ओर से गेट खोलने की भी कोशिश की गई। इस दौरान कार्यकर्ताओं व मौजूद पुलिस कर्मियों के बीच धक्का मुक्की हुई।

वहीं, संघ कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर लाठीचार्ज करने का आरोप लगाया। धक्का मुक्की में भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश महामंत्री यशपाल हेटा और आशा वर्कर्स यूनियन की प्रदेश महामंत्री शशिलता घायल हुई हैं। यशपाल हेटा को उपचार के लिए आईजीएमसी ले जाने की सूचना है। सचिवालय में चल रहे संघ के उग्र प्रदर्शन को देखते हुए मुख्य सड़क के गेट को बंद कर दिया गया। इसके चलते संजौली के लिए यातायात बाधित है। मांगों पर चर्चा के लिए मुख्य सचिव ने मजदूर नेताओं को वार्ता के लिए बुलाया है। समिति कक्ष में बैठक चल रही है। मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल भी बैठक में मौजूद है।

इससे पहले संघ कार्यकर्ताओं ने से लिफ्ट से बाया हिमलैंड और टॉलैंड से छोटा शिमला तक विशाल रैली निकाली। टॉलैंड में कार्यकर्ताओं ने चक्का जाम भी किया। इससे सर्कुलर रोड पर जाम लग गया। प्रदर्शन में आशा कार्यकर्ता, पर्यटन विकास निगम कर्मचारियों समेत अन्य कर्मी मौजूद हैं।