शिमला: दाह संस्कार के लिए काटी लकड़ी, मामला दबाने के लिए मांगी रिश्वत, आरोपी के खिलाफ चार्जशीट

शिमला. अवैध कटान (Cutting) से जुड़े मामले को निपटाने के एवज में रिश्वत (Bribe) लेने के आरोपी तत्कालीन खंड वन अधिकारी, वाइल्ड लाइफ कटगांव, किन्नौर के खिलाफ विशेष न्यायाधीश किन्नौर की अदालत में विजिलेंस ने चार्जशीट (Chargesheet) दायर की है. इस मामले में पेड़ काटने की एवज में शिकायतकर्ता से 80,000 रुपये रिश्वत (Bribe) मांगी गई थी. इसके तहत 10,000 रुपये नकद और 20,000 रुपये बैंक खाते में स्वीकार करने का आरोप है. विजिलेंस को जनवरी 2014 में शिकायत मिली थी कि आरोपियों ने शिकायतकर्ता ने कायल के पेड़ की अवैध कटाई के मामले को निपटाने के लिए शिकायतकर्ता से 80,000 रुपये मांगे थे.

यह है पूरा मामला
शिकायतकर्ता ने कहा कि उसने अपने भाई के दाह संस्कार के उद्देश्य से पंचायत की अनुमति से पेड़ काट दिया था, जबकि पेड़ कटान के इस अपराध को कम करने के लिए रिश्वत मांगने वाला अधिकारी अधिकृत नहीं था. इसके अलावा, आरोपी अधिकारी ने नियमों के अनुसार फेलिंग की सूचना देने के एक सप्ताह के भीतर रेंज अधिकारी को नुकसान की रिपोर्ट नहीं दी.

आवाज मिलान के लिए एफएसएल भेजा
जांच के दौरान, शिकायतकर्ता ने आरोपी अधिकारी के साथ की फोन रिकॉर्डिंग को पुन: प्राप्त किया गया और आवाज मिलान के लिए एफएसएल को भेजा गया और चार्जशीट दाखिल करने से पहले सक्षम अधिकारी से अभियोजन स्वीकृति प्राप्त की गई. अब चार्जशीट दाखिल की गई है.