शिक्षक दिवस विशेष: ऑनलाइन पढ़ाई के लिए अपने पैसों से खरीदकर दिए स्मार्ट फोन

कोरोना काल में गरीब विद्यार्थियों का शिक्षक कल्याण समिति सहारा बनी है। शिक्षकों ने एक साल में करीब 15 स्मार्ट फोन खरीदकर बच्चों को दिए। इनमें कई बच्चे ऐसे थे, जिनके पूरे परिवार में सिर्फ एक ही मोबाइल था। कुछ जगह घर में ऑनलाइन पढ़ाई करने वाले दो थे, लेकिन स्मार्ट फोन एक ही था। ऐसे में समिति के शिक्षक सदस्यों ने बच्चों की सहायता करने की सोची। शिक्षकों ने अपनी जेब से पैसे खर्च कर मोबाइल खरीदे और बच्चों को दिए। शिक्षक कल्याण समिति की पहल पर सरकार ने यह मुहिम पूरे हिमाचल में चलाई। इसके बाद प्रदेश के सैकड़ों गरीब विद्यार्थियों को सरकार ने स्मार्ट फोन दिए।

समिति ने डोनेट ए बुक मुहिम के जरिये भी गरीब बच्चों तक पाठन सामग्री किताबें उपलब्ध करवाई जा रही है। अब तक करीब 500 गरीब बच्चों को मुफ्त किताबें दी गई हैं। शिक्षक कल्याण समिति के अध्यक्ष श्याम लाल हांडा ने कहा कि पिछले एक साल में शिक्षकों ने अपने पैसों से गरीब बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई के लिए स्मार्ट फोन दिए हैं। डोनेट ए बुक मुहिम भी कारगर हुई है। इसे आगे भी जारी रखा जाएगा।