वेंटिलेटर पर सांस ले रहे वीरभद्र सिंह, तबीयत बिगड़ने पर किए शिफ्ट

हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री और अर्की विधानसभा क्षेत्र के विधायक वीरभद्र सिंह अभी भी डॉक्टरों की निगरानी में आईजीएमसी में उपचाराधीन हैं। यहां पर उन्हें कार्डियोलॉजी विभाग में डाक्टरों की निगरानी में रखा गया है। सांस की तकलीफ के चलते ही उन्हें सोमवार को वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया गया था। आईजीएमसी प्रशासन की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री का हैल्थ बुलेटिन जारी कर जानकारी साझा की गई है। गौरतलब है कि पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह करीब तीन महीने से प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल आईजीएमसी में उपचाराधीन हैं। पूर्व मुख्यमंत्री दो बार कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं और दोनों ही बार वह कोरोना को मात देकर ठीक भी हो चुके हैं, लेकिन अब फेफड़ों में संक्रमण होने के चलते उन्हें सोमवार को सांस लेने में दिक्कत हुई। इससे डाक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट कर दिया। वहीं, आईजीएमसी पूर्व सीएम से मिलने पहुंचे भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा भी उनसे नहीं मिल पाए। उनके परिजनों से ही हाल पूछ कर वह कुल्लू के लिए रवाना हो गए थे। इस संबंध में आईजीएमसी के एमएस डा. जनक राज का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह अभी कार्डियोलॉजी विभाग में डाक्टरों की निगरानी में हैं। सांस की तकलीफ की वजह से उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया गया है।