विधानसभा के बाहर धरने में पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह हुए शामिल, कहा विधायकों का निलंबन ग़लत

शिमला : हिमाचल प्रदेश के पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) ने गुरुवार को अपने पांच विधायकों के निलंबन के विरोध में विधानसभा के बाहर धरना दिया. इस दौरान वह करीब एक घंटे तक धरनास्थल पर मौजूद रहे और बाद में वहां से चले गए.

News 18 से एक्सक्लूसिव बातचीत विधानसभा में चल रहे गतिरोध पर वीरभद्र सिंह ने कहा कि यह बहुत मामूली मामला है. अगर सरकार चाहती तो एक घंटे में ये मसला हल हो जाता. लेकिन भाजपा सरकार चाहती है कि ये स्थिति ऐसी ही बनी रहे. पूर्व सीएम और दिगग्ज कांग्रेस नेता वीरभद्र ने कहा कि पक्ष और विपक्ष एक ही परिवार है और परिवार के अंदर कई बाते होतीं हैं.

दोनों को एक-दूसरे के प्रति सहनशील होना चाहिए और यही हमारी परंपरा रही है. उन्होंने कहा निलंबन रद्द ना होने की सूरत में धरना जारी रहेगा. वहीं, सरकार को बातचीत करनी चाहिए, क्योंकि सदन चले और कार्यवाही हो, यह सरकार की जिम्मेवारी है.